Telangaana lockdown news: राज्य में लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही तेलंगाना सरकार

Telangaana lockdown news: राज्य में लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही तेलंगाना सरकार
HYDERABAD, INDIA - DECEMBER 11: Telangana Chief Minister and TRS leader Kalvakuntla Chandrashekar Rao after the party’s electoral win, outside TRS Bhavan, Banjara Hills, on December 11, 2018 in Hyderabad, India. The ruling TRS secured a simple majority winning 60 seats and was ahead in 27 others as per the latest vote count in the Telangana assembly elections on Tuesday. (Photo by Kunal Patil/Hindustan Times via Getty Images)

मंगलवार को मुख्यमंत्री, के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व में की जाएगी बैठक, फायदे नुकसान की जाएगी समीक्षा

पिछले कुछ दिनों में देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में वृद्धि देखी गई है। इन राज्यों में तेलंगाना प्रमुख हैं। कोरोना संक्रमण की इसी चुनौती से निपटने के लिए मुख्यमंत्री, के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व में तेलंगाना सरकार लॉकडाउन लगाने पर विचार कर रही है। मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार ' कई रिपोर्ट ये दावा कर रही हैं कि लॉकडाउन लगने के बावजूद राज्यों में संक्रमण में कोई कमी नहीं आई है। फिर भी राज्य के अलग अलग हिस्सों से लोग लॉकडाउन लगाने की मांग कर रहे हैं। अब इसी फैसले पर विचार करने के लिए मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने मंगलवार को मीटिंग का आयोजन किया है।

मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार ' इस बैठक में लॉक डाउन के फायदे और नुकसान पर विचार विमर्श किया जाएगा। साथ ही राज्य में चल रही धान की खरीदारी पर पड़ने वाले प्रभाव पर भी विचार किया जाएगा।' बता दें कि पिछले हफ्ते मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव लॉक डाउन की पेशकश को ठुकरा चुके हैं। उन्होंने इस फैसले से इंकार करते हुए कहा था कि इस फैसले से राज्य की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ेगा। राज्य में अलग अलग प्रदेशों के 30-40 लाख लोग काम कर रहे हैं। लॉकडाउन की स्थिति में वह अपने अपने घर जाने पर मजबूर हो जाएंगे। हम पिछले वर्ष लॉकडाउन में लोगों की खराब स्थिति का दृश्य देख ही चुके हैं। लॉकडाउन की स्थिति में उनका वापस तेलंगाना आना भी मुश्किल हो जाएगा।

साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में धान की खरीदारी भी चल रही है। धान की खरीदारी कोई आसान प्रक्रिया नहीं है, इसमें लाखों लोग  प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से शामिल होते हैं। धान की खरीदारी रुकने से लाखों लोगों का रोजगार छिन जाएगा। साथ ही धान मिल भी बंद हो जाएंगी, वहां काम कर रहे मजदूरों की आर्थिक स्थिति पर भी गहरा प्रभाव पड़ेगा। 

राज्य में कोरोना संक्रमण के आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले चौबीस घंटे में 4,826 नए मामले दर्ज किए गए हैं। वहीं 35 लोग संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं, जिससे राज्य में मरने वालों की कुल संख्या 2,771 पहुंच गई है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 62,797 बनी हुई है। 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com