Yaas: चक्रवात से तबाही, अगले 3 घंटों में पहुँचेगा ओडिशा-पश्चिम बंगाल के उत्तरी तट पर

Yaas: चक्रवात से तबाही, अगले 3 घंटों में पहुँचेगा ओडिशा-पश्चिम बंगाल के उत्तरी तट पर

 भारत ने कुछ दिनों पहले ही तौकते साइक्लोन(Cyclone Tauktae) की तबाही को सहा है । अभी तौकते(Cyclone Tauktae) के जख्म भरे भी नही हैं कि, यास साइक्लोन आतंक मचाने के लिए तैयार है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि चक्रवात यास (Yaas) अगले 3 घंटों के भीतर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के उत्तरी तटों से टकराएगा। लैंडफॉल प्रक्रिया को पूरा होने में करीब दो घंटे का समय लगेगा।

भारत में कुछ दिन पहले चक्रवात तौकते(cyclone Taukte) कहर बनकर टूटा था। अब चक्रवात Yaas ने आतंक मचाना शुरू कर दिया है। चक्रवात Yaas भारत के पश्चिमी और उत्तर पश्चिमी राज्यों को काफी ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाला है। इस नुकसान के लिए इंडियन मेट्रोलॉजिकल डिपार्टमेंट(IMD) ने पहले ही चेतावनी जारी कर दी है।

मौसम एजेंसी ने कहा है कि सिस्टम के अनुसार, चक्रवात Yaas अगले 3 घंटों के भीतर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के उत्तरी तटों तक पहुँचेगा। बालासोर के दक्षिण में 130-140 किमी प्रति घंटे और 155 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज़ हवाएं चल रही हैं। यह तूफान बुधवार सुबह 10:30 बजे बालासोर से लगभग 25 किमी दक्षिण में बंगाल की उत्तर-पश्चिम खाड़ी पर केंद्रित था। साथ ही मौसम विभाह ने बताया कि लैंडफॉल की प्रक्रिया को पूरा होने में करीब दो घंटे का समय और लगेगा।

मौसम विभाग ने बुधवार को ओडिशा के जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, भद्रक, बालासोर, कटक, ढेंकनाल, केओझारगढ़ और पुरी, खुर्दा, अंगुल, देवगढ़, सुंदरगढ़ जिलों में भारी बारिश (200 मिमी से अधिक) की चेतावनी जारी की है। जैसे ही चक्रवात Yaas लैंडफॉल के करीब पहुंचा, आज सुबह, पूर्व मेदिनीपुर जिले में समुद्र उबड़-खाबड़ हो गया। ओडिशा के धामरा में आने वाले चक्रवात के प्रभाव में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश भी हुई है।

 indian airport authority  ने मंगलवार को कहा कि भुवनेश्वर हवाईअड्डा गुरुवार सुबह पांच बजे तक बंद रहेगा। कोलकाता हवाई अड्डे पर हवाई जहाजों की आवाजाही,  बुधवार सुबह 8:30 बजे से शाम 7:45 बजे तक बन्द रहेगी।

एक अधिकारी ने कहा कि ओडिशा के निचले इलाकों से तीन लाख से अधिक लोगों को निकाला गया है। चक्रवात Yaas पहले ही दो लोगों की मौत और घरों को नुकसान पहुंचाने का कारण बन चुका है। गंभीर मौसम और बारिश ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल को गंभीर रूप से प्रभावित किया है।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com