Pegasus Spyware: इस खास टूल की मदद से पहचान सकते हैं स्पाइवेयर, जानिए कैसे होता है इस्तेमाल

Pegasus Spyware: इस खास टूल की मदद से पहचान सकते हैं स्पाइवेयर, जानिए कैसे होता है इस्तेमाल

जिस तरह से कभी Covid-19 ने लोगो को डरा रखा था, उसी तरह से लोगो को Pegasus Spyware से भी भय है. फिलहाल सरकार पर भी यह आरोप लग रहे हैं कि उसने Pegasus Spyware के जरिए कई सारे पत्रकारों पर, विपक्ष के कुछ नेताओं पर, और कुछ मंत्रियों के फोन की जासूसी करवाई है. आपको बता दें कि इस स्पाइवेयर को इजरायली कंपनी NOS ने आतंकवादी संगठनों को पकड़ने के लिए बनाया था.

यह खतरनाक स्पाइवेयर आपके फोन में बिना आपके सूचना के प्रवेश कर जाता है. अब तक कोई ऐसा टूल भी मौजूद नहीं था, जिससे पहचान की जा सके कि यह आपके फोन के अंदर मौजूद है. इसे रोकने की खातिर किसी भी एंटीवायरस सिस्टम, या पुराने हथकंडे का प्रयोग बेकार रहा है. यह स्पाइवेयर इतना खतरनाक है कि आपके फोन के अंदर के हर एक डाटा का स्क्रीनशॉट अपने ऑपरेटर्स के पास भेज देता है. हालांकि  इसका इस्तेमाल केवल सरकार ही कर सकती है. सरकार जितने भी लोगों की जासूसी करवा रही होगी, उसे हर एक इंसान की खातिर पैसे अदा करने  होंगे. आईफोन, जिसकी सिक्योरिटी बेहद मजबूत मानी जाती है, Pegasus Spyware ने उसकी सुरक्षा भी भेद दी है.

Pegasus Spyware की पहचान करने वाला टूल

मानवाधिकार सुरक्षा और आजादी के निहित में कार्य करने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था एमनेस्टी इंटनेशनल ने एक ऐसी टूल को तैयार किया है, जिससे किसी भी प्रकार के स्पाइवेयर का पता चल जाएगा. इसका नाम MVT, यानी कि Mobile Verification Tool रखा गया है. संस्था के मुताबिक इस टूल के सहयोग से यह जाना जा सकता है कि आपका फोन इस स्पाइवेयर से इंफेक्टेड हुआ है या नहीं. अब तक मिली जानकारी के अनुसार यह टूल, एंड्रॉयड और आईफोन दोनों ही प्लेटफॉर्म पर कार्य कर सकता है. संस्था का कहना है कि आईफोन की सिक्योरिटी ज्यादा मजबूत होने के कारण यह आईफोन पर बेहतर तरीके से काम कर सकता है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com