ओला अपने इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम के साथ जल्द ही देगा गूगल मैप्स को चुनौती

ओला अपने इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम के साथ जल्द ही देगा गूगल मैप्स को चुनौती

गूगल मैप्स (Google Maps) लंबे समय से भारत में एकमात्र वेब मैपिंग प्लेटफॉर्म रहा है. विशेष रूप से एंड्रॉइड स्मार्टफोन यूज़र्स के लिए गूगल मैप्स काफ़ी ज़रूरी है क्योंकि कोई अन्य ऐप इसकी प्रतिस्पर्धा में नहीं है. हालाँकि, भविष्य में चीज़ें बदल सकती हैं, क्योंकि ओला (Ola) जल्द ही अपने इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम - ओला मैप्स (Ola Maps) को लॉन्च करने के लिए तैयार है. 

कहा जा रहा है, कि कंपनी का यह इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम गूगल मैप्स के समान डिजिटल मैप्स और नेविगेशन सुविधाओं की पेशकश करेगा. ओला, जो राइडशेयरिंग और इलेक्ट्रिक स्कूटर निर्माण व्यवसाय में एक अग्रणी नाम है, अपने स्वयं के डिजिटल मैप्स और नेविगेशन सिस्टम पर काम कर रहा है. वर्तमान में कंपनी, मैप माई इंडिया (MapMyIndia) द्वारा पेश किए गए डेटा के आधार पर अपना नेविगेशन प्रदान करती है, लेकिन जल्द ही कंपनी अपनी सभी सेवाओं में अपने स्वयं के नेविगेशन सिस्टम का उपयोग करेगी. 

ओला मैप्स की झलक दिखाते हुए कंपनी के सीईओ भाविश अग्रवाल (Bhavish Aggarwal) ने फीचर की टेस्टिंग के दौरान नेविगेशन ऐप का स्क्रीनव्यू पोस्ट किया. गौरतलब है, कि ओला मैप्स सर्विस फिलहाल ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) की वेबसाइट पर लाइव है. लेकिन जल्द ही कंपनी ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर और ओला कैब सहित अन्य ओला उत्पादों में भी नेविगेशन सेवा शुरू करेगी. विशेष रूप से ओला ने साल 2021 में जियो-एनालिटिक्स समाधान प्रदाता जियोस्पोक (GeoSpoc) का अधिग्रहण किया, ताकि नेक्स्ट जनरेशन की लोकेशन टेक्नोलॉजी और नेविगेशन सिस्टम का निर्माण किया जा सके. 

ओला मैप्स के साथ, कंपनी अपने ईवी वाहनों (Ola EV) की सुविधाओं को बढ़ाने का भी लक्ष्य रखेगी. इससे ओला के ईवी वाहनों में विश्वसनीयता भी बनेगी और ग्राहक सेवा भी बढ़ेगी. भविष्य में ओला अपने ईवी वाहनों के लिए एलोन मस्क (Elon Musk) की टेस्ला (Tesla) की पेशकश के समान नेविगेशन और जीपीएस सुविधाएँ ला सकती है. जहां टेस्ला कारों ने अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में सफलता का स्वाद चखा है, वहीं भारतीय बाज़ार में उनकी एंट्री को हरी झंडी नहीं मिल रही है. 

Image Source


यह भी पढ़ें: सैमसंग जल्द करेगा नई स्लाइड और फोल्ड डिस्प्ले तकनीक का प्रदर्शन

Related Stories

No stories found.
logo
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com