कुश्ती संघ के अध्यक्ष पद से हटे बृज भूषण, पहलवानों ने खत्म किया प्रदर्शन

कुश्ती संघ के अध्यक्ष पद से हटे बृज भूषण, पहलवानों ने खत्म किया प्रदर्शन

दिल्ली के जंतर-मंतर (Jantar Mantar) में चल रहा पहलवानों का प्रदर्शन खत्म हो गया है. खेल मंत्री और पहलवानों के बीच, कल देर रात तक बैठक हुई, जिसके बाद पहलवानों ने अपना प्रदर्शन (Wrestlers Protest) खत्म करने का एलान किया. इसके साथ ही, एक कमेटी की घोषणा की गई है, जो 4 हफ्ते में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. जब तक जांच पूरी नहीं हो जाती, तब तक कुश्ती संघ का काम भी कमेटी देखेगी. 

कुश्ती संघ (Indian Wrestling Federation) के मौजूदा अध्यक्ष बृजभूषण शरण (Brij Bhushan Sharan), जांच पूरी होने तक संघ के काम से दूर रहेंगे और जांच में सहयोग करेंगे. पहलवानों की शिकायतों के समाधान के पहले कदम के तहत, निशाने पर आए भारतीय कुश्ती महासंघ (WIF) अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह को अध्यक्ष पद की ज़िम्मेदारियों से अलग किया गया है.

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) के साथ दूसरे दौर की वार्ता में गतिरोध दूर होने पर विनेश फोगाट (Vinesh Phogat), बंजरग पुनिया (Bajrang Punia), साक्षी मलिक (Sakshi Malik) और रवि दहिया (Ravi Dahiya) सहित अन्य पहलवानों ने अपना धरना समाप्त करने का फैसला किया. 

आपको बता दें, कि उन्होंने भारतीय कुश्ती महासंघ और उसके अध्यक्ष के खिलाफ यौन उत्पीड़न और भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था. केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने मैराथन बैठक के बाद कहा, कि “एक निगरानी समिति बनाने का फैसला किया गया है, जिसके सदस्यों के नामों की घोषणा आज ही की जाएगी. यह समिति 4 हफ्ते में जांच पूरी करेगी. यह समिति डब्ल्यूएफआई और इसके अध्यक्ष के खिलाफ वित्तीय या यौन उत्पीड़ के सभी आरोपों की गंभीरता से जांच करेगी.’’

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से देर रात हुई मैराथन बैठक के बाद, पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा, कि “खेल मंत्री ने हमारी मांगों को सुना और उचित जांच का आश्वासन दिया. मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं और हमें उम्मीद है, कि इस मामले की निष्पक्ष जांच होगी, इसलिए फिलहाल हम अपना विरोध वापस ले रहे हैं.”

आपको बता दें, कि इससे पहले शुक्रवार को दिन में भारतीय कुश्ती महासंघ अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ लगे यौन शोषण के आरोपों की जांच के लिए, भारतीय ओलिंपिक संघ की ओर से सात सदस्यीय समिति का गठन किया गया था. इस समिति के सदस्यों में मैरी कॉम (Mary Kom), योगेश्वर दत्त (Yogeshwar Dutt), डोला बनर्जी (Dola Banerjee), अलकनंदा अशोक (Alaknanda Ashok), सहदेव यादव (Sehdev Yadav) और दो वकील भी शामिल हैं.

Image Source


यह भी पढ़ें: जयराम रमेश ने फिर साधा भाजपा पर निशाना, कहा ‘वे भारत जोड़ो यात्रा से परेशान’

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com