पबजी की लत में बेटा बना मां का हत्यारा, तीन दिनों तक घर में रहा शव

पबजी की लत में बेटा बना मां का हत्यारा, तीन दिनों तक घर में रहा शव

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के पीजीआई इलाके में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक नाबालिग ने अपनी मां साधना सिंह (40) की सिर्फ इसलिए गोली मारकर हत्या कर दी, क्योंकि उसने उसे पब्जी गेम (PUBG Game) खेलने से रोका था. केवल इतना ही नहीं, उसने अपनी छोटी बहन को धमकी दी, कि अगर पुलिस या किसी को बताया तो वह उसे भी मार देगा. सूचना मिलने पर जब पुलिस पहुंची, तो कमरे में मृतक साधना सिंह का शव मिला और पास ही एक पिस्टल पड़ी थी.

पुलिस द्वारा नाबालिग बेटे से पूछताछ करने पर सारी बात सामने आ गई. पुलिस के मुताबिक, साधना सिंह के पति नवीन सिंह मूलरूप से वाराणसी के रहने वाले हैं और वह सेना में सूबेदार मेजर (जेसीओ) के पद पर तैनात हैं. वर्तमान में उनकी ड्यूटी पश्चिम बंगाल के आसनसोल में है.

एडीसीपी पूर्वी, कासिम आब्दी के मुताबिक, नवीन के परिवार में पत्नी साधना सिंह, उनका 16 साल का बेटा और 9 साल की बेटी है. शनिवार रात को साधना दोनों बच्चों के साथ कमरे में सो रही थी, तब रात करीब 3 बजे बेटे ने पिता की लाइसेंसी पिस्तौल से माँ के सिर में गोली मार दी. वहीं, छोटी बहन को धमका कर दूसरे कमरे में ले गया. सुबह उठने के बाद बहन को दोबारा धमकी देते हुए कहा, कि पुलिस या किसी को बताया तो उसे भी जान से मार देगा.

पकड़े जाने के डर से पिता को दी सूचना

पुलिस के मुताबिक, शनिवार रात को मां की हत्या करने के बाद आरोपी दो दिन व तीन रात तक घर में बहन के साथ पड़ा रहा. इस दौरान, वह बार-बार उस कमरे में जाता था, जहां पर मां का शव पड़ा था. उस कमरे में वह रूम फ्रेशनर मारकर बदबू को भगाने की कोशिश करता रहा. मंगलवार रात करीब 9 बजे बदबू तेज हुई तो उसे डर लगने लगा. उसने आसनसोल में तैनात पिता को कॉल कर सूचना दी, कि मां को किसी ने मार दिया है. हम दोनों को कमरे में बंद कर दिया था और हम किसी तरह बाहर निकले हैं.

इस पर पिता नवीन सिंह ने पड़ोसी दिनेश तिवारी को कॉल कर घर पर वारदात होने की जानकारी दी. दिनेश जब नवीन के घर पर पहुंचे, तो वहां दोनों बच्चे बरामदे में थे. उन्होंने पूछताछ की, तो बताया कि किसी ने मां को मार दिया है. इस पर उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस दोनों बच्चों को बाहर ले गई.

पुलिस ने नवीन के नाबालिग बेटे से पूछताछ की और वहीं बेटी से महिला पुलिसकर्मियों ने पूछताछ की थी. नाबालिग बेटे ने पुलिस के सामने कबूल किया, कि वह पबजी गेम खेलता था, जिसके लिए उसकी पिटाई भी होती थी. वहीं, शनिवार को घर में 10 हजार रुपये गायब हो गये थे, तब भी उसकी पिटाई हुई थी. नाबालिग बेटे ने पुलिस को बताया, कि घर में कुछ भी गलत काम होता था, तो उस का सारा आरोप उसी पर लगता था और फिर पिटाई होती थी. इसी नाराजगी में उसने मां की हत्या कर दी.

पबजी गेम और इंस्टाग्राम है पसंद

पुलिस के मुताबिक, नवीन का नाबालिग बेटा तेलीबाग स्थित एपीएस स्कूल में 10वीं का छात्र है. वह पबजी गेम का आदी है. इस बात की जानकारी होने पर मां अक्सर उस पर नाराज होती थी. लेकिन बेटे को मां की नाराजगी का कोई फर्क नहीं पड़ता था. ज्यादा नाराज होने पर उसकी पिटाई कर दी जाती थी. पबजी गेम के साथ वह इंस्ट्राग्राम (Instagram) का भी आदी है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com