बीसीसीआई द्वारा चयन समिति को बर्खास्त करने को दिनेश कार्तिक ने बताया ‘दिलचस्प घटनाक्रम’

बीसीसीआई द्वारा चयन समिति को बर्खास्त करने को दिनेश कार्तिक ने बताया ‘दिलचस्प घटनाक्रम’

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को विश्व कप (ICC World Cup) में भारत को मिली हार से काफ़ी निराशा हुई, जिसके बाद बोर्ड द्वारा बड़े फ़ैसले लिए गए. विश्व कप सेमीफाइनल में इंग्लैंड से भारत को मिली हार के बाद, बीसीसीआई ने प्रभावी रूप से चेतन शर्मा (Chetan Sharma) के नेतृत्व वाली मौजूदा चयन समिति को बर्खास्त कर दिया. कई लोगों को शायद यह आश्चर्यजनक न लगे, लेकिन भारत के विकेटकीपर और बल्लेबाज़ दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) के लिए यह बदलाव कुछ ऐसा था, जिसकी उन्हें उम्मीद नहीं थी.

कार्तिक ने एक इंटरव्यू में कहा, कि "यह बहुत दिलचस्प घटनाक्रम है. मुझे लगता है कि हममें से किसी ने भी इसे आते हुए नहीं देखा. यह नए चयनकर्ताओं के आने का भी मौका है और हमें देखना होगा कि चीज़ें किस तरह सामने आती हैं.” कार्तिक हालांकि चयन समिति को बाहर निकलने का वर्णन करने के लिए ‘बर्खास्त’ शब्द के इस्तेमाल से खुश नहीं हैं.

उनका मानना ​​है, कि चयन समिति का कार्यकाल वैसे भी समाप्त हो रहा था और इस प्रकार यह बदलाव अनिवार्य था. उन्होंने कहा, "मुझे पता है कि इस शब्द ‘बर्खास्त’ का बहुत उपयोग किया गया था, लेकिन मुझे लगता है कि उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा था. 40-45 खिलाड़ियों में से 15 खिलाड़ियों को चुनना, जो देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए तैयार हों, यह आसान नहीं होता. उन्हें इसका श्रेय जाता है. उन्होंने अच्छा काम किया. अब नए चयनकर्ताओं को कुछ कड़े फैसले लेने होंगे.”

भारतीय क्रिकेट टीम में बदलाव का दौर भी न्यूज़ीलैंड (IND vs NZ) टूर के साथ शुरू हो गया है. इस बार, भारतीय टीम में बीसीसीआई द्वारा कई युवा खिलाड़ियों और बाहर के खिलाड़ियों को मौका दिया गया है. वहीं अलग-अलग फ़ॉर्मैट में अलग-अलग कप्तानों की नियुक्ति को लेकर भी बात हो रही है. इसका मतलब यह है, कि तीनों टीमों टेस्ट, वनडे और टी20आई (T20I) की कप्तानी एक व्यक्ति के हाथ में नहीं होगी.

Image Source

यह भी पढ़ें: सूर्यकुमार यादव ने भारत बनाम न्यूज़ीलैंड में जीत के बाद विराट कोहली की तारीफ का दिया जवाब

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com