Prophet Remark Row: रांची हिंसा में 2 लोगों की मौत के साथ 12 घायल, तो वहीं हावड़ा में लगा कर्फ्यू

Prophet Remark Row: रांची हिंसा में 2 लोगों की मौत के साथ 12 घायल, तो वहीं हावड़ा में लगा कर्फ्यू

नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के पैगंबर मुहम्मद (Prophet Muhammad) पर दिए गए विवादित बयान को लेकर देश के कई हिस्सों में बवाल हो रहा है. शुक्रवार 10 जून को कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन देखने को मिले, जिनमें पश्चिम बंगाल (West Bengal) का हावड़ा भी शामिल है.

हिंसा के बाद से ही धारा 144 लागू कर दी गई थी, लेकिन आज सुबह एक बार फिर भीड़ इकट्ठा हुई और जमकर पत्थरबाजी करना शुरू कर दिया. यहां पुलिस पर भीड़ ने पत्थरबाजी की है, जिसके बाद पुलिस की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई की गई और आंसू गैस के गोले दागे गए. हालात को देखते हुए, इंटरनेट सेवा को 13 जून सुबह 6 बजे तक बंद कर दिया गया है.

रांची में भड़की हिंसा

पैगंबर मुहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर रांची में भी शुक्रवार को नमाज के बाद हिंसक प्रदर्शन हुआ. आगजनी और पथराव के चलते पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी. इस फायरिंग में 35 साल के व्यक्ति की मौत हो गई थी. वहीं, देर रात एक और शख्स की मौत की खबर सामने आई है, हालांकि प्रशासन ने इसकी पुष्टि नहीं की है. खबर है, कि 7 अन्य लोगों को गोली लगी है और 12 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

प्रदर्शन के दौरान उपद्रवियों ने पुलिस पर भी पथराव किया. एसएसपी समेत 3 पुलिसकर्मी को भी चोटें आई हैं. केवल इतना ही नहीं, रांची आए बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन (Nitin Navin) की गाड़ी पर भी उपद्रवियों ने हमला कर दिया. आपको बता दें, कि वे भारतीय जनता पार्टी (BJP) कोटे से नीतीश (Nitish Kumar)सरकार में मंत्री हैं.

पत्थरबाजी के दौरान कुछ लोगों ने महावीर मंदिर में छिपने की कोशिश की. इसके बाद, प्रदर्शनकारियों ने मंदिर पर भी पथराव कर दिया. इस घटना से हिंदू संगठनों का भी गुस्सा भड़क गया और वे सड़कों पर उतर आए. पथराव और आगजनी के बाद प्रशासन ने रांची के कुछ इलाकों में कर्फ्यू लगाने का ऐलान कर दिया है और वहाँ की इंटरनेट सेवाओं को भी आज सुबह 6 बजे तक बंद कर दिया गया था.

हैदराबाद में जोरदार प्रदर्शन, जमकर नारेबाजी

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में भी कुछ जगहों पर नूपुर शर्मा, राजा सिंह और अन्य के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ है. हैदराबाद के मक्का मस्जिद, चारमीनार, अजीजिया मस्जिद, हुमायूं नगर, मस्जिद ए कुबा, वादी ए मुस्तफा, मस्जिद ए सैयदना ओमर फारूक, चंद्रयानगुट्टा के बाहर जमकर नारेबाजी हुई है.

जामा मस्जिद में प्रदर्शनकारियों ने की नारेबाजी

पैगंबर मोहम्मद पर कथित टिप्पणी करने पर भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर प्रदर्शन किया गया. जुमे की नमाज के बाद, जामा मस्जिद के बाहर लोगों ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जमकर नारे लगाए. जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा, 'हम नहीं जानते, कि विरोध करने वाले कौन हैं, मुझे लगता है, कि वे ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के हैं या ओवैसी के लोग हैं. हमने स्पष्ट कर दिया कि अगर वे विरोध करना चाहते हैं, तो वे कर सकते हैं, लेकिन हम उनका समर्थन नहीं करेंगे.

हिंसा पर बांग्लादेशी लेखिका तस्लीमा नसरीन (Taslima Nasreen) का बयान आया सामने

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई टिप्पणी को लेकर बड़ा बयान सामने आया है. नसरीन ने ट्विटर पर लिखा, ‘अगर पैगंबर मुहम्मद आज जिंदा होते तो दुनिया भर के मुस्लिम कट्टरपंथियों का पागलपन देखकर हैरान रह जाते’.

गौरतलब है, कि पैगंबर मुहम्मद पर यह विवाद तब शुरू हुआ जब नूपुर शर्मा ने ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Mosque) पर एक टीवी बहस के दौरान पैगंबर के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की थी. उसके बाद यह मुद्दा एक अंतरराष्ट्रीय विवाद में बदल गया क्योंकि कई खाड़ी देशों ने टिप्पणियों के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया. वहीं, नूपुर शर्मा को भाजपा से निलंबित कर दिया गया था. हालांकि, लोग उनकी गिरफ्तारी की मांग को लेकर विरोध कर रहे हैं.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com