Uttarkashi Bus Accident: उत्तरकाशी के डामटा में खाई में गिरने से 26 लोगो की मौत

Uttarkashi Bus Accident: उत्तरकाशी के डामटा में खाई में गिरने से 26 लोगो की मौत

उत्तराखंड (Uttarakhand) के उत्तरकाशी (Uttarkashi) जिले में रविवार को हुए एक भीषण सड़क हादसे (Bus Accident) में, अब तक 26 लोगों को मौत हो चुकी है. बताया जा रहा है, कि यमुनोत्री दर्शन कर वापस लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी एक बस, उत्तरकाशी जिले के डामटा में गहरी खाई में जा गिरी, जिसके कारण उसमें सवार 26 यात्रियों की मौत हो गई. वहीं इस भीषण सड़क दुर्घटना में 4 लोग गंभीर रूप से घायल भी हो गए.

आपको बता दें, कि इस दुखद हादसे के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) समेत केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) और केंद्रीय रक्षा मंत्री, राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने उत्तरकाशी में हुई इस बस दुर्घटना को लेकर अपना दुख व्यक्त किया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का कहना था, कि वह इस घटना से काफ़ी आहत हुए हैं. साथ ही इसे लेकर उन्होंने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री, पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) से बात भी की.

पुष्कर सिंह धामी का ऐलान

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तरकाशी में हुए सड़क हादसे को लेकर मुआवजे का ऐलान करते हुए, दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को एक लाख और घायलों को 50 हजार रुपए देने का एलान किया. मुख्यमंत्री धामी ने ट्वीट किया है, कि “मैं, उत्तरकाशी के पुरौला में डामटा के पास हुए दिल-दहला देने वाले सड़क हादसे में, मृतकों के परिजनों को 1 लाख रुपए और घायलों को 50 हज़ार रुपए की सहायता राशि दिए जाने की घोषणा करता हूं.”

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दी जाएगी मदद

वहीं इससे पहले भारत के प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी ने भी इस सड़क हादसे को लेकर शोक व्यक्त करते हुए राहत पैकेज की घोषणा की थी. प्रधानमंत्री ने ऐलान किया, कि इस सड़क दुर्घटना के प्रत्येक मृतक के परिजन को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये की अनुग्रह राशि, प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (PMNRF) से दी जाएगी.

सरकार ने की सहायता राशि की घोषणा

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को, 5-5 लाख रुपए की राहत राशि देने का ऐलान किया है. वहीं ताजा जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उत्तराखंड सरकार का धन्यवाद भी किया. उन्होंने कहा, कि “मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से घटना के तुरंत बाद बात हुई थी और उन्होंने तत्काल सुरक्षा और बचाव का कार्य शुरू कर दिए. मैं भी रात को बारह बजे देहरादून पहुंच गया था.”

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com