उज्जैन गौरव दिवस पर शिवराज सिंह ने साधा उमा भारती पर निशाना, कहा "शिव जी की बूटी छोड़कर सब नशे हो ख़त्म”

उज्जैन गौरव दिवस पर शिवराज सिंह ने साधा उमा भारती पर निशाना, कहा "शिव जी की बूटी छोड़कर सब नशे हो ख़त्म”

महाकाल की नगरी के नाम से मशहूर उज्जैन में 3 अप्रैल को, उज्जैन गौरव दिवस का भव्य आयोजन किया गया था. इस खास आयोजन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) भी शामिल हुए थे. इस दौरान, मुख्यमंत्री ने नशा और शराबबंदी को लेकर एक बड़ा बयान दिया, जहां उन्होंने नाम लिये बिना पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती पर निशाना साधा.

रविवार को उज्जैन गौरव दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, कि "अगर राज्य में मेरे द्वारा दारू पर रेक लगाने से यह बंद हो जाती, तो हम इसे बंद करने में एक दिन भी नहीं लगाते. नशा विनाश की जड़ है और हमें हर तरह के नशे को जड़ से खत्म करना है. हम नशा मुक्ति अभियान चलाएंगे, तो शराब की दुकानें अपने आप ही बंद हो जाएंगी."

आपको बता दें, कि अपने इस बयान से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती पर निशाना साधा है. दरअसल, उमा भारती ने राज्य में शराबबंदी के लिए मोर्चा खोल रखा है. इसी के चलते, उन्हें कुछ दिन पहले एक शराब की दुकान में पत्थर फेंकते हुए भी देखा गया था. इसके बाद से मध्यप्रदेश में एक बार फ़िर शराबबंदी की मांग तेज़ होने लगी है. इसी को लेकर, शिवराज सिंह चौहान का ये बयान आया है.

हालांकि, अपने बयान में उन्होंने भांग को ख़त्म न करने की बात भी कही है. उन्होंने कहा, कि "भांग को छोड़कर हर तरह के नशे ख़त्म किए जाएं, क्योंकि भांग शिव जी की बूटी है. हमें शिव जी की बूटी को छोड़कर, हर तरह के नशे को तबाह करना है." अंत में उन्होंने यह भी कहा, कि उनके ऐसा कहने पर कई लोगों की चिंताएं बढ़ गई होंगी.

आपको बता दें, कि उज्जैन गौरव दिवस के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बॉलीवुड सिंगर कैलाश खेर (Kailash Kher) के साथ गाना भी गाया. इस दौरान, वह गुंडे माफियाओं के खिलाफ़ एक्शन मोड में भी दिखे. उन्होंने साफ तौर पर कहा, कि “अगर किसी ने भी बेटियों पर आंख उठाई, तो उनके मकानों और दुकानों का पता नहीं चलेगा. ऐसे बदमाशों पर बुलडोज़र चलाए जाएंगे.

Related Stories

No stories found.