Parliament Budget Session 2022: आज शुरू होगा दूसरा चरण, मंहगाई के मुद्दे पर विपक्ष के निशाने पर केंद्र

Parliament Budget Session 2022: आज शुरू होगा दूसरा चरण, मंहगाई के मुद्दे पर विपक्ष के निशाने पर केंद्र

संसद में सोमवार 14 मार्च से Budget Session का दूसरा चरण शुरु होने जा रहा है. संसद के दोनों सदन यानी राज्यसभा और लोकसभा में आज 11 बजे से इसकी कार्यवाही शुरू की जाएगी. आपको बता दें, कि 31 जनवरी को Budget Session का पहला चरण शुरू हुआ था, जो 11 फरवरी तक चला था. वहीं आज से शुरू होने जा रहा दूसरा चरण, 8 अप्रैल तक चलेगा.

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के लिए पेश होगा बजट

संसद के Budget Session में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, प्रश्नकाल के बाद जम्मू-कश्मीर का बजट पेश करेंगी. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए के हटने के बाद, यह केंद्र शासित प्रदेश के लिए तीसरा बजट होगा. बीते साल की तुलना में इस बार के बजट में थोड़ी बढ़ोतरी दिखाई दे सकती है. वहीं दोपहर के भोजन के बाद, सदन की कार्यवाही में बजट की चर्चा की जा सकती है.

यूक्रेन, बेरोज़गारी जैसे मुद्दों पर केंद्र को घेरने की तैयारी में विपक्ष

Budget Session के दूसरे चरण में भारी हंगामे के भी आसार दिखाई दे रहे हैं. विपक्षी दल बेरोज़गारी, यूक्रेन, महंगाई और कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) के मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेरने की तैयारी में है. इसको लेकर, रविवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने आवास पर कांग्रेस संसदीय दल की बैठक बुलाई थी. इस बैठक में पार्टी ने बेरोज़गारी, महंगाई और ईपीएफ जैसे मुद्दों पर अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर एक रणनीति बनाई है.

Budget Session के दूसरे सत्र में 16 विधेयक पास कराने की होगी कार्यवाही

जहां एक ओर विपक्ष, केंद्र को घेरने की तैयारी कर रहा है, वहीं दूसरी ओर केंद्र सरकार Budget Session के दूसरे सत्र में कई विधेयक पास कराने की कार्यवाही करेगी. दरअसल, लोकसभा और राज्यसभा में इस वक्त करीब 16 विधेयक लंबित पड़े हैं, जिन्हें इस सत्र में पास किया जा सकता है. इन विधेयकों में संविधान संशोधन (अनुसूचित जनजाति) आदेश बिल, डाटा प्रोटेक्शन बिल, माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण और कल्याण (संशोधन) विधेयक शामिल है. इसके अलावा, बाल विवाह निषेध (संशोधन) और वन्यजीव संरक्षण (संशोधन) विधेयक समेत 16 विधेयक लंबित हैं.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com