Sri Lanka Economic Crisis: श्रीलंका के खिलाड़ी सनथ जयसूर्या ने भारत को दिया ये दर्जा

Sri Lanka Economic Crisis: श्रीलंका के खिलाड़ी सनथ जयसूर्या ने भारत को दिया ये दर्जा

आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका (Sri Lanka) की हालत दिन-ब-दिन खराब होती जा रही है. ऐसे में भारत ने पड़ोसी देश होने का फर्ज़ निभाते हुए कई तरह की आर्थिक सहायता भेजी. हालांकि, भारत की ओर से श्रीलंका को पहले भी सहायता प्रदान की जा रही थी. मगर अब इस बढ़ते आर्थिक संकट को देखते हुए भारत की ओर से और ज्यादा से ज्यादा मदद भेजी जा रही है.

वहीं संकट के इस समय भारत की ओर से की जा रही मदद को देखते हुए श्रीलंका के दिग्गज बल्लेबाज़, सनथ जयसूर्या (Sanath Jayasuriya) ने भी इसकी काफ़ी सराहना की है. उन्होंने कहा, कि "यह दुर्भाग्यपूर्ण है, कि मेरे देश के लोग इस स्थिति से गुज़र रहे हैं. वह इस तरह से जीवित नहीं रह सकते हैं. मगर आप हमेशा हमारे सबसे अच्छे पड़ोसी रहे हैं. आप हमारे देश की एक बड़ा भाई के रूप में मदद कर रहे हैं. इस मदद के लिए हम भारत सरकार और प्रधानमंत्री को बहुत धन्यवाद देते हैं."

इसके अलावा, उन्होंने अपने देश की वर्तमान सरकार को आर्थिक संकट के लिए ज़िम्मेदार ठहराया है. साथ ही लोगों से शांतिपूर्ण तरीके से विरोध करने का आग्रह भी किया है.

श्रीलंका की मदद के लिए आगे आया भारत

श्रीलंका में आर्थिक संकट के बाद से ही भारत की ओर से लगातार मदद की जा रही है. भारत ने अपने पड़ोसी देश को आर्थिक संकट से निकालने के लिए क्रेडिट लाइन की पेशकश भी की है. इसके तहत, श्रीलंका में बिजली संकट दूर करने के लिए अब तक भारत की ओर से 2,70,000 मीट्रिक टन से अधिक ईंधन की आपूर्ति की गई है. वहीं बीते 24 घंटों में भारत ने पड़ोसी देश श्रीलंका को 36,000 मीट्रिक टन पेट्रोल और 40,000 मीट्रिक टन डीजल की खेप भेजी है.

गौरतलब है, कि ईंधन के अलावा भारत ने श्रीलंका को 1 अरब डॉलर की क्रेडिट लाइन आर्थिक सहायता भी प्रदान की है. इसके साथ ही, भारत अपने पड़ोसी देश को 3 लाख टन चावल की आपूर्ति भी करेगा.

Related Stories

No stories found.