लाउडस्पीकर विवाद पर राज ठाकरे ने की योगी आदित्यनाथ की तारीफ, कहा “महाराष्ट्र में योगी नहीं भोगी हैं”

लाउडस्पीकर विवाद पर राज ठाकरे ने की योगी आदित्यनाथ की तारीफ, कहा “महाराष्ट्र में योगी नहीं भोगी हैं”

इन दिनों देश के कई राज्यों में लाउडस्पीकर विवाद काफ़ी सुर्खियों में है. वहीं अब एक बार फिर, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) के बयान पर राजनीति गरमाई है. दरअसल, मनसे (MNS) प्रमुख ने उत्तर प्रदेश में धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने को लेकर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को बधाई दी है.

इसके साथ ही, राज ठाकरे ने अपने चचेरे भाई और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) पर तंज भी कसा है. राज ठाकरे ने ट्वीट करते हुए लिखा, कि "धार्मिक स्थलों, खासकर मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए मैं, योगी सरकार को तहे दिल से बधाई देता हूं और उनका आभारी हूं. दुर्भाग्य से महाराष्ट्र में कोई 'योगी' नहीं है, हमारे पास भोगी हैं. मैं ईश्वर से उन्हें सद्बुद्धि देने की कामना करता हूं."

उत्तर प्रदेश में करीब 11 हज़ार अवैध लाउडस्पीकर उतारे

आपको बता दें, कि लाउडस्पीकर विवाद के चलते उत्तर प्रदेश के धार्मिक स्थलों पर लगे, करीब 11 हज़ार अवैध लाउडस्पीकर उतारे गए हैं. इसके अलावा, 35 हज़ार से अधिक लाउडस्पीकरों की आवाज़ को कम कराया गया है. उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (एडीजी) प्रशांत कुमार के अनुसार, यह कार्रवाई हाईकोर्ट के साल 2018 के आदेश का अनुपालन कराए जाने के लिए, शासन के निर्देश पर की गई है.

राज ठाकरे ने महाराष्ट्र सरकार को दिया 3 मई तक का अल्टीमेट

17 अप्रैल को राज ठाकरे ने एक बयान देते हुए कहा था, कि “नमाज़ अदा करने का किसी ने विरोध नहीं किया, लेकिन अगर नमाज़ को लाउडस्पीकर पर करते हैं, तो हम लोग भी हनुमान चालीसा के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करेंगे. अगर सरकार इस पर कुछ नहीं करती, तो 3 मई के बाद मैं देखूंगा, कि क्या करना है.” इसके अलावा, उन्होंने 3 मई को अक्षय तृतीया के अवसर पर, राज्य भर के अपने स्थानीय मंदिरों में लाउडस्पीकर पर 'महा आरती' करने का ऐलान भी किया है.

लाउडस्पीकर मामले में राणा दंपति गिरफ्तार

महाराष्ट्र में इस समय लाउडस्पीकर विवाद काफ़ी सुर्खियों में है. कुछ दिन पहले, लोकसभा सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा को गिरफ्तार किया गया था. दरअसल, सांसद नवनीत राणा ने, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री पर, लाउडस्पीकर से हनुमान चालीसा पढ़ने का ऐलान किया था.

इस ऐलान के बाद से ही, राजनीति काफ़ी गरमा गई थी और राणा दंपति को पुलिस ने, कानून व्यवस्था बिगाड़ने के जुर्म में गिरफ्तार किया था. वहीं इस वक्त दोनों पति-पत्नी जेल में हैं और उनकी ज़मानत भी ख़ारिज कर दी गई है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com