पैगंबर मुहम्मद पर नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी से 15 देश ख़फ़ा, जानें पूरा मांजरा

पैगंबर मुहम्मद पर नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी से 15 देश ख़फ़ा, जानें पूरा मांजरा

पैगंबर मुहम्मद (Prophet Muhammad) के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताओं, नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) और नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) की टिप्पणी करने के मामले में विवाद बढ़ता जा रहा है. वहीं, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी ये मुद्दा गरमा गया है.

आपको बता दें, कि दुनिया के कई मुस्लिम देशों ने पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताओं की टिप्पणियों की कड़ी आलोचना की है. ईरान, कुवैत, कतर, और पाकिस्तान समेत कई देशों ने पैगंबर मुहम्मद को लेकर की गई टिप्पणी के खिलाफ भारतीय राजदूत को तलब किया है. खबरों के अनुसार, दुनिया के 15 देश अब तक इस विवादित टिप्पणी पर अपना विरोध जता चुके हैं.

इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) के सचिवालय ने तो पैगम्बर मुहम्मद के खिलाफ सत्तारूढ़ पार्टी नेताओं की टिप्पणियों का हवाला देते हुए भारत में मुस्लिम विरोधी माहौल बनाने की कोशिशों का नाम देने का प्रयास किया है. जिसके बाद, विदेश मंत्रालय ने इन आरोपों को खारिज कर दिया. OIC की ओर से आपत्ति जताने के बाद विदेश मंत्रालय ने कहा, कि भारत सरकार (GOI) OIC सचिवालय की अनुचित और संकीर्ण सोच वाली टिप्पणियों को खारिज करती है.

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने की भाजपा नेताओं को निलंबित करने की मांग

वहीं, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने भी पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी को लेकर कड़ा रुख अख्तियार किया है. आपको बता दें, कि बोर्ड की ओर से एक चिट्ठी जारी की गई है. जिसमें पैगंबर मुहम्मद पर अपमानजनक और अशोभनीय टिप्पणी करने वाले भाजपा नेताओं को पार्टी से सिर्फ निलंबित करने ही नहीं, बल्कि उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए कड़ी सजा की मांग की है.

दोनों नेताओं को भाजपा ने किया पार्टी से बाहर

आपको बता दें, कि पैगंबर मुहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर भाजपा पहले ही नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी है. नूपुर शर्मा को प्राथमिक सदस्यता से 6 साल के लिए सस्पेंड कर दिया है. इसके अलावा, नवीन कुमार जिंदल को भी पार्टी से निकाला गया है. नवीन कुमार जिंदल दिल्ली भाजपा के मीडिया हेड की जिम्मेदारी संभाल रहे थे.

पैगंबर मुहम्मद पर की थी टिप्पणी

आपको बता दें, कि यह पूरा मामला तब शुरू हुआ जब बीते महीने नूपुर शर्मा एक टीवी डिबेट का हिस्सा थी. जिसमें ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर हो रहे विवाद पर चर्चा की जा रही थी. नूपुर शर्मा ने जब अपनी बात रखी, तो उसमें उन्होंने कुछ ऐसा कह दिया जहां से ये पूरा विवाद शुरू हुआ. उन पर आरोप लगा कि उन्होंने पैगंबर मुहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी की और तब से उनके ख़िलाफ़ लगातार कार्रवाई की मांग की जा रही थी. पैगंबर मुहम्मद पर की गई टिप्पणी का वीडियो वायरल होने के बाद नुपूर शर्मा ने कहा, ये वीडियो एडिट किया हुआ है जिसे एक फैक्ट चेकर की ओर से रिलीज किया गया है.

इसके बाद, इस मामले ने तूल पकड़ना शुरू कर दिया और भारत-पाकिस्तान में सोशल मीडिया पर इसका बहुत विरोध हुआ. उस दौरान बीजेपी दिल्ली के प्रवक्ता नवीन कुमार जिंदल ने भी अल्पसंख्यक समुदाय के ख़िलाफ़ एक ट्वीट कर के विवाद खड़ा किया था.

नूपुर शर्मा ने मांगी माफी

नूपुर शर्मा ने पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ टिप्पणी को लेकर माफी मांग ली थी. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था, ''मैं पिछले कई दिनों से टीवी डिबेट पर जा रही थी, जहां रोजाना मेरे आराध्य शिव जी का अपमान किया जा रहा था. हमारे महादेव के अपमान को मैं बर्दाश्त नहीं कर पाई और मैंने रोष में आकर कुछ चीजें कह दी. अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची हो, तो मैं अपने शब्द वापस लेती हूं”.

पैगंबर मुहम्मद पर कथित टिप्पणी को लेकर चर्चा में आईं भाजपा से निलंबित नूपुर शर्मा को दिल्ली पुलिस की सुरक्षा मिल गई है. दिल्ली पुलिस ने निलंबित भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा और उनके परिवार को सुरक्षा प्रदान की है. इसकी जानकारी एक अधिकारी ने दी है. दरअसल, पैगंबर मुहम्मद पर विवादास्पद टिप्पणी को लेकर नूपुर शर्मा को गला काटने और रेप की धमकी मिल रही थी और इसके बाद उनकी शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com