Narendra Modi in Tokyo: भारतीय प्रधानमंत्री ने शिंजो आबे को दी श्रद्धांजलि

Narendra Modi in Tokyo: भारतीय प्रधानमंत्री ने शिंजो आबे को दी श्रद्धांजलि
The Asahi Shimbun

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi), मंगलवार 27 सितंबर 2022 को टोक्यो (Tokyo) में पूर्व जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे (Shinzo Abe) के अंतिम संस्कार में शामिल हुए और पुष्पांजलि अर्पित की. इस दौरान, उन्हें ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीज़ (Anthony Albanese) के साथ देखा गया. आपको बता दें, इस वक़्त जापान (Japan) में दुनियाभर के नेता शिंजो आबे को श्रद्धांजलि देने पहुंचे हुए हैं.

राज्य के अंतिम संस्कार की शुरुआत, जापान के वर्तमान प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा (Fumio Kishida) को अस्थियाँ देने के साथ हुई, जो एक बॉक्स में थी. इसके बाद, उन्होंने औपचारिक रूप से इसे सैन्य अधिकारियों को सौंप दिया, जिन्होंने बॉक्स को वेदी के केंद्र में रख दिया. श्रद्धांजलि देने पहुंचे लोगों में अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस (Kamala Harris), सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सीन लूंग (Lee Hsien Loong), वियतनामी राष्ट्रपति गुयेन जुआन फुक (Nguyen Xuan Phuc), फिलीपींस के उपराष्ट्रपति, इंडोनेशिया के उपराष्ट्रपति मारुफ अमीन (Ma'ruf Amin), आदि काफ़ी लोग शामिल थे.

टोक्यो के निप्पॉन बुडोकन हॉल (Nippon Budokan Hall) में हो रहे इस समारोह के दौरान, शिंजो आबे के महत्वपूर्ण क्षणों की एक वीडियो श्रद्धांजलि दिखाई गई. इसमें वह समय भी शामिल था, जब उन्होंने वैश्विक शिखर सम्मेलन में विश्व नेताओं के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी.

आपको बता दें, कि शिंजो आबे को जापान के नारा शहर में एक भाषण के दौरान 8 जुलाई 2022 को हुई एक चुनावी रैली में गोली मार दी गई थी. दरअसल, 41 वर्षीय तेत्सुया यामागामी (Tetsuya Yamagami) ने पीछे से राजनेता के पास जाकर करीब 10 मीटर (33 फीट) की दूरी से 2 गोलियां चलाई थीं. मिली जानकारी के मुताबिक, हमलावर ने इस हत्या की साजिश लगभग एक साल तक रच रखी थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि 67 वर्षीय यह राजनेता, जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे थे. वहीं, आबे ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए साल 2020 में यह पद छोड़ दिया था.

Image Source

यह भी पढ़ें: Rahul Gandhi Viral Video: ‘भारत जोड़ो यात्रा' में इन खिलाड़ियों ने लिया हिस्सा

Related Stories

No stories found.
logo
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com