Hemant Soren News: राज्य के प्रतिभाशाली छात्रों को ऐसे मिलेगी सरकारी परीक्षाओं की तैयारी में मदद

Hemant Soren News: राज्य के प्रतिभाशाली छात्रों को ऐसे मिलेगी सरकारी परीक्षाओं की तैयारी में मदद

झारखंड के मुख्यमंत्री Hemant Soren ने राज्य के गरीब वर्ग के छात्रों के लिए एक बड़ी घोषणा की है. इस घोषणा के अंतर्गत सरकारी विद्यालयों में सातवीं से दसवीं क्लास तक के सभी छात्र छात्राओं को राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा एवं ओलंपियाड के लिए विशेष कोचिंग दी जाएगी. 11वीं और 12वीं क्लास के छात्रों के लिए CLAT की कोचिंग होगी. एनडीए की तरफ से भी इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल चुकी है. मुख्यमंत्री Hemant Soren ने स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के इस प्रस्ताव के लिए मंजूरी दी है. अब सिर्फ मंत्रिमंडल की बैठक में ही यह स्वीकृति प्रक्रिया बाकी है.

मुख्यमंत्री Hemant Soren ने इस बारे में ज्यादा जानकारी साझा करते हुए बताया है, कि "राज्य के सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग तथा मेडिकल के अलावा बहुत से अन्य प्रतियोगिताओं की जरूरत होती है. अन्य प्रतिस्पर्धी प्रतियोगिताओं की तैयारी में काफी खर्च आता है. जिसकी वजह से सरकार इन विद्यार्थियों को मदद देने के लिए काम करना चाहती है. "यह तथ्य सत्य है, कि अक्सर बहुत से ऐसे छात्र देखे जाते हैं जिनमें प्रतिभा मौजूद होती है लेकिन गरीबी की वजह से वे अच्छे कोचिंग इंस्टीट्यूट में कोचिंग नहीं ले सकते तथा जीवन की इस दौड़ में पीछे रह जाते हैं”.

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि इस योजना के अंतर्गत राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान परिषद द्वारा चलाई जाने वाली राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा तथा ओलंपियाड की विशेष आवासीय कोचिंग भी दी जाएगी. इस कोचिंग के अंतर्गत लगभग 100 विद्यार्थियों को चुना जाएगा. इनमें सातवीं क्लास के 25 छात्र, आठवीं क्लास के 25 छात्र, नौवीं क्लास के 25 छात्र तथा दसवीं क्लास के 25 छात्र मौजूद होंगे. वहीं, CLAT के लिए कक्षा ग्यारहवीं से बारहवीं तक के 50-50 विद्यार्थी चुने जाएंगे.

वहीं, दूसरी तरफ झारखंड एकेडमिक काउंसिल की तरफ से भी विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा के लिए छात्र-छात्राओं का चुनाव किया जाएगा. यह चुनाव एक परीक्षा के आधार पर होगा. इस परीक्षा को पास करने वाले विद्यार्थी नामांकन स्थानांतरण प्रमाण पत्र के आधार पर तथा माता-पिता की सहमति के आधार पर रांची जिला के विद्यालय में दाखिल होंगे. इससे राज्य आकांक्षा कार्यक्रम के लिए अनुश्रवण समिति का भी गठन होगा.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com