रूस और यूक्रेन युद्ध पर Joe Biden ने कहा- "भारत का रवैया निराशाजनक"

रूस और यूक्रेन युद्ध पर Joe Biden ने कहा- "भारत का रवैया निराशाजनक"

Russia (रूस) और Ukraine (यूक्रेन) के बीच चल रहे युद्ध के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति, Joe Biden (जो बाइडेन) ने भारत को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है. इसके साथ ही, उन्होंने इस युद्ध में भारत के रुख को लेकर नाराज़गी भी जताई. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का कहना है, कि “यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद भारत का रुख कुछ हद तक अस्थिर रहा है. वहीं इस दौरान, राष्ट्रपति ने NATO (नाटो) की सराहना भी की है.

भारत के रवैये पर बोले Joe Biden

अपने इस बयान में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा, कि "यूक्रेन में युद्ध की शुरुआत के बाद कई पश्चिमी देशों ने रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाए. मगर क्वाड (Quad) देश की बात की जाए, तो रूस पर भारत ने नरम रुख, तो जापान ने कड़ा रुख अपनाया है. वहीं, पुतिन के इस आक्रमण पर ऑस्ट्रेलिया ने भी जापान के जैसा ही रुख अपनाया है."

इसके साथ ही नाटो को लेकर बाइडेन ने कहा, कि “इस आक्रमण से पहले नाटो कभी इतना एकजुट और मजबूत नहीं था, जितना आज है. पुतिन के खिलाफ़ नाटो, यूरोपीय संघ और प्रमुख एशियाई भागीदारों ने महत्वपूर्ण निभाई है."

आपको बता दें, कि जो बाइडेन ने रूस और मास्को से तेल खरीदी पर प्रतिबंध लगाने का भी ऐलान किया है. मगर भारत ने कथित तौर पर रूस से रियायती दरों पर तेल की खरीद जारी रखी है. वहीं पश्चिम देश मास्को को तेल खरीदी से अलग करना चाहते हैं.

भारत ने अपनाया न्यूट्रल रुख

फिलहाल रूस और यूक्रेन के बीच जंग शुरू हुए 26 दिन हो चुके हैं, लेकिन युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है. गौरतलब है, कि कई देशों और संगठनों ने रूस पर भारी प्रतिबंध भी लगाए हैं. मगर भारत ने इस मसले को लेकर अपना रुख न्यूट्रल रखा. भारत ने संयुक्त राष्ट्र समेत अलग-अलग मंचों पर स्पष्ट किया था, कि भारत अभी रूस के खिलाफ़ किसी भी तरह का कोई कदम नहीं उठाएगा. भारत की पहली प्राथमिकता, युद्ध में फंसे सभी भारतीयों को वहां से सुरक्षित निकालने की है.

Related Stories

No stories found.