Amit Shah in Jhansi: तीसरे चरण के चुनाव से पहले भाजपा ने पूछे विपक्ष से तीखे सवाल

Amit Shah in Jhansi: तीसरे चरण के चुनाव से पहले भाजपा ने पूछे विपक्ष से तीखे सवाल

भारत के केंद्रीय गृहमंत्री Amit Shah ने उत्तर प्रदेश चुनाव के तीसरे चरण से पहले, झांसी में जनसभा को संबोधित किया है. इस जनसभा को संबोधित करते हुए, केंद्रीय गृहमंत्री Amit Shah ने समाजवादी पार्टी (सपा), कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के कुशासन वाले दौर को जनता के सामने अपने शब्दो के साथ प्रदर्शित किया है.

गृहमंत्री Amit Shah ने इस जनसभा को संबोधित करते हुए कहा है, कि "देश में परिवारवादी पार्टियां, दुनिया में लोकतंत्र के नाम पर एक काला धब्बा है. यह परिवारवादी पार्टियां ही उत्तर प्रदेश और देश का भला करने में कभी आगे नहीं आती. यह लोग सिर्फ अपनी तिजोरिया भरने का ही काम करते हैं. Akhilesh Yadav की सरकार ने 5 साल में गुंडों और माफियाओं की मदद से गरीबों की जमीन हथियाने का काम किया था. वहीं मुख्यमंत्री Yogi Adityanath ने, 2000 करोड़ की जमीन पर बुलडोजर चलवा कर उस सारे काले चिट्ठे को साफ कर दिया."

उन्होंने यह भी बताया है, कि Akhilesh Yadav ने कैसे अपने ही परिवार के 45 लोगों को उत्तर प्रदेश की सरकार में अलग-अलग पदों पर बिठाया था. वहीं प्रधानमंत्री Narendra Modi ने, 45 योजनाओं को जनता के घर तक पहुंचाने का काम किया है.

इस जनसभा में केंद्रीय गृहमंत्री Amit Shah ने यह भी कहा है, कि "बुंदेल के पास मेहनतकश युवा और इतनी विशाल जमीन भी मौजूद है. मगर पानी और बिजली क्यों नहीं मौजूद थी? प्रधानमंत्री Narendra Modi और मुख्यमंत्री, Yogi Adityanath ने बुंदेलखंड में जो पानी का संकट था, उस संकट को दूर करने के लिए बेहतरीन काम किया है. वहीं हम इस संकट को दूर करने के लिए उत्तर प्रदेश में बहुत सी ऐसी योजनाएं लाएंगे, जिनके साथ मौजूदा जो भी पानी का संकट बचा है, वह भी समाप्त हो जाएगा."

वहीं Akhilesh yadav पर निशाना साधते हुए Amit Shah ने मौजूद जनता के बीच कहा है, कि “समाजवादी पार्टी के इत्र वाले नेता के पास इतने नोटों की गड्डी मिली है. आखिर अखिलेश सरकार का ईत्र वाले नेता के साथ रिश्ता क्या है? गौरतलब है, कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए लगभग सभी पार्टियां पूरे जोरों शोरों के साथ मैदान में उतरी हुई है. इसके साथ ही, 20 फरवरी को उत्तर प्रदेश में तीसरे चरण के मतदान होने हैं.

Related Stories

No stories found.