अजय माकन ने कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी के पद से दिया इस्तीफा

अजय माकन ने कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी के पद से दिया इस्तीफा

आज कांग्रेस (Congress) के नेता अजय माकन (Ajay Maken) ने पार्टी के राजस्थान प्रभारी के पद से इस्तीफा दे दिया है. खबरों के अनुसार, वह सितंबर में पार्टी पर आए संकट से काफ़ी परेशान थे, जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने आखिरी मिनट पर कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव लड़ने के लिए अपना पद छोड़ने से इंकार कर दिया था। 

माकन ने अपने त्याग पत्र में कहा, कि "पिछली 3 पीढ़ियों से कांग्रेस की विचारधारा से जुड़ा हुआ हूं और 40 से अधिक वर्षों से कांग्रेस की राजनीति में सक्रिय हूं. मैं हमेशा राहुल जी का अनुयायी बना रहूंगा, जिन पर मुझे भरोसा है और विश्वास है।" 

आपको बता दें, कि सितंबर में अशोक गहलोत के प्रति निष्ठावान 90 से अधिक विधायकों ने, कांग्रेस की एक महत्वपूर्ण मीटिंग में भाग लेने से इनकार कर दिया था। उस दौरान, राजस्थान में अपने प्रतिद्वंद्वी सचिन पायलट (Sachin Pilot) द्वारा उनका मुख्यमंत्री पद छिने जाने की संभावना के विरोध में, गहलोत अपना इस्तीफा सौंपने के लिए स्पीकर के पास गए थे।

सूत्रों का कहना है, कि अजय माकन को यह उम्मीद थी, कि पार्टी उन विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करेगी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ. इसी वजह ने उनके कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी का पद छोड़ने के फैसले में योगदान दिया। राजस्थान में कांग्रेस पर सितंबर में आए संकट के दौरान, माकन ने विशेष रूप से 3 विधायकों – महेश जोशी (Mahesh Joshi), धर्मेंद्र राठौर (Dharmendra Rathore) और शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी, जिन्होंने एक प्रस्ताव पास करने के लिए विधायकों की एक मीटिंग बुलाई थी। उस मीटिंग में ऐसा कहा गया था, कि सभी विधायक केवल गहलोत को ही मुख्यमंत्री के रूप में स्वीकार करेंगे।

इसके अलावा, अजय माकन को परेशान करने वाले अन्य कारणों में अशोक गहलोत के प्रति निष्ठावान विधायकों को दिए गए कारण बताओ नोटिस पर कोई कार्रवाई नहीं करना और कांग्रेस विधायक दल या सीएलपी की कोई बैठक न होना भी है। वहीं हाल ही में माकन, कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ (Bharat Jodo Yatra) की समीक्षा बैठक से भी दूर रहे। ग़ौरतलब है, कि अजय माकन का इस्तीफा, सचिन पायलट द्वारा राजस्थान में राजनीतिक संकट की खबरों को समाप्त करने के लिए बुलाए जाने के 2 सप्ताह बाद आया है. 

यह भी पढ़ें: मैनपुरी उपचुनाव में डिंपल यादव के खिलाफ भाजपा ने पूर्व सांसद को मैदान में उतारा

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com