महाराष्ट्र सरकार पर छाए संकट के बादल, शिंदे के खेमे में 7 और विधायक शामिल

महाराष्ट्र सरकार पर छाए संकट के बादल, शिंदे के खेमे में 7 और विधायक शामिल

मंगलवार को शुरू हुई महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. एकनाथ शिंदे के बयान और दिन भर चली बैठकों के बाद, बुधवार की शाम को महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने फेसबुक (Facebook) पर लाइव आकर अपने मन की बात कही.

आपको बता दें, उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री निवास छोड़ दिया है और अपनी पत्नी, बेटों और सारे सामान के साथ अपने घर ‘मातोश्री’ शिफ्ट हो गए हैं. वहीं, मातोश्री के बाहर शिवसैनिकों ने नारे भी लगाए.

सांसद भी चले विधायकों की राह

विधायकों के साथ साथ, अब सांसद भी एकनाथ शिंदे के साथ जुड़ सकते हैं. सूत्रों के अनुसार, एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के संपर्क में अब 17 सांसद भी हैं. वाशिम की सांसद भावना गवली, पालघर सांसद राजेंद्र गावित और रामटेक सांसद कृपाल बालाजी ने अपना समर्थन शिंदे को दिया है. वहीं, ठाणे के सांसद राजन विचारे और कल्याण के सांसद श्रीकांत शिंदे पहले से ही गुवाहाटी में मौजूद हैं.

7 और विधायक हुए बागी

उद्धव सरकार की मुश्किलें ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं. फेसबुक पर अपने मन की बात बताने के बावजूद उनके विधायक टूटते जा रहे हैं. आपको बता दें, बुधवार की शाम को 4 और गुरुवार की सुबह, यानी कि आज भी 3 विधायकों ने अपना पाला बदलते हुए गुवाहाटी में शिंदे से जा मिले हैं.

आपको बता दें, शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कल एक ट्वीट के ज़रिये हिंट दिया, कि जिस तरह विधायक और सांसद बागी हो रहे हैं, महाराष्ट्र विधान सभा का गिरना तय है. मगर उन्हें भरोसा है कि शिवसेना आज भी मजबूत है और जल्द ही सच सामने आएगा कि विधायकों ने पार्टी का साथ किन हालातों में छोड़ा है.

इन सब के बीच, सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि अगर उनके पार्टी के लोग खुद आकर उनसे इस्तीफा देने को कहेंगे, तो वे ज़रूर ऐसा करेंगे, नाकि किसी और के कहने से.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com