Birbhum Violence Latest Updates: विधानसभा में भाजपा-टीएमसी के बीच मचा बवाल, 5 विधायक निलंबित

Birbhum Violence Latest Updates: विधानसभा में भाजपा-टीएमसी के बीच मचा बवाल, 5 विधायक निलंबित

बीरभूम हिंसा (Birbhum Violence) को लेकर पश्चिम बंगाल विधानसभा (West Bengal Assembly) में सोमवार को, भाजपा (BJP) और तृणमूल कांग्रेस (TMC) आपस में भिड़ गईं. बजट सत्र के आखिरी दिन भाजपा विधायकों ने बीरभूम हिंसा पर चर्चा की मांग को लेकर, ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाज़ी की. इसके बाद, टीएमसी और भाजपा के विधायक आपस में भिड़ गए और उनके बीच काफी मारपीट भी हुई.

सूत्रों के अनुसार, सदन की कार्यवाही के दौरान भाजपा विधायक मनोज तिग्गा (Manoj Tigga) और टीएमसी के असित मजूमदार (Asit Majumder) के बीच हाथापाई हो गई. शबरों की मानें, तो इस घटना में असित मजूमदार घायल हो गए, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

इसके बाद, पश्चिम बंगाल विधानसभा की कार्यवाही रोकने के आरोप में विपक्षी नेता सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) समेत, भाजपा के 5 विधायकों को निलंबित कर दिया गया है. सुवेंदु अधिकारी के अलावा जिन अन्य 5 विधायकों को निलंबित किया गया है, उनमें मनोज तिग्गा, दीपक बर्मन (Deepak Burman), नरहरि महतो (Narhari Mahto) और शंकर घोष (Shankar Ghosh) के नाम शामिल हैं.

सदन में हुई इस घटना का एक वीडियो, भाजपा के एक मंत्री द्वारा ट्विटर पर शेयर किया गया है. इस वीडियो में ऐसा दिख रहा है, कि भाजपा के विधायक बीरभूम हिंसा मामले पर चर्चा करना चाहते थे. मगर टीएमसी के विधायकों ने उन्हें धक्का दिया, जिसके बाद से ही यह पूरा बवाल शुरु हुआ. इस विडियो का जवाब देते हुए, टीएमसी के विधायक चंद्रिमा भट्टाचार्य (Chandrima Bhattacharya) ने कहा, कि भाजपा विधायकों को निलंबित कर देना चाहिए.

विधानसभा अध्यक्ष बीमान बनर्जी (Biman Banerjee) ने भी इस पूरे बवाल पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है, कि “विधायकों की इस हरकत से सदन की छवि खराब हुई है. सुवेंदु अधिकारी समेत कुल 5 बीजेपी विधायकों को विधानसभा से निलंबित कर दिया गया है.” सूत्रों के हवाले से यह ख़बर भी आ रही है, कि निलंबित हुए विधायक आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ मुलाकात कर सकते हैं.

इसी के साथ एक बड़ी ख़बर और आई है. कोलकाता हाई कोर्ट (Kolkata High Court) ने सीबीआई (CBI) द्वारा पशु तस्करी की जांच में टीएमसी बीरभूम के ज़िला अध्यक्ष अनुब्रत मंडल (Anubrata Mondal) को, गिरफ्तारी से सुरक्षा देने से इनकार करने वाली जजों की बैंच के आदेश को बरकरार रखने का आदेश दिया है.

Related Stories

No stories found.