Hyderabad Gang Rape: मर्सिडीज़ में नाबालिग़ से गैंगरेप, दो आरोपी हुए गिरफ़्तार

Hyderabad Gang Rape: मर्सिडीज़ में नाबालिग़ से गैंगरेप, दो आरोपी हुए गिरफ़्तार

हैदराबाद के जुबली हिल्स थाना क्षेत्र में 28 मई को नाबालिग के साथ कथित तौर पर गैंगरेप (Hyderabad Gang-rape) का मामला सामने आया है. इस आरोप में 5 नाबालिगों के खिलाफ़ मामला दर्ज किया गया है.

आपको बता दें, कि इस मामले में पिता की तरफ से शिकायत दर्ज कराई गई थी. शिकायत में कहा गया, कि लड़की को कुछ लड़के कार में बिठाकर ले गए. बलात्कार की घटना से पहले, सीसीटीवी फुटेज में पीड़िता को आरोपियों के साथ एक पब के बाहर खड़े हुए देखा गया है. लड़कों ने उसे घर छोड़ने का प्रस्ताव दिया था.

हैदराबाद पश्चिम क्षेत्र के पुलिस उपायुक्त (DCP), जोएल डेविस ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी देते हुए कहा, कि मामले में संदिग्ध सादुद्दीन मलिक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने यह भी बताया कि 5 लोगों की पहचान की गई है, जिसमें 3 नाबालिग हैं. डीसीपी ने बताया, कि सीसीटीवी फुटेज और पीड़िता के बयान के आधार पर 5 आरोपियों की पहचान की गई है.

28 मई की है घटना

17 साल की पीड़िता, 28 मई को एक पार्टी के बाद अपने घर लौट रही थी. उसी वक्त, हैदराबाद जुबली हिल्स इलाके में उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. वहीं, यह मामला तब सामने आया जब पीड़िता के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

मर्सिडीज में बारी-बारी से रेप

आरोप है, कि बलात्कारियों ने नाबालिग के साथ मर्सिडीज़ में मारपीट की और उसके बाद उसका बारी-बारी से रेप किया. जबकि बाकी लोग गाड़ी के बाहर पहरा दे रहे थे. बताया जा रहा है, कि इस मामले के ज्यादातर आरोपी 11वीं और 12वीं के छात्र हैं.

हैदराबाद गैंगरेप मामले में 2 आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

ताजा जानकारी के अनुसार, नाबालिग के साथ गैंगरेप मामले में पुलिस ने दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है. जबकि, अन्य आरोपी सादुद्दीन मलिक की गिरफ़्तारी पुलिस पहले ही कर चुकी है.

आपको बता दें, कि लड़की के पिता की शिकायत पर पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354, 323 और पॉक्सो एक्ट की धारा 9 और 10 के तहत मामला दर्ज किया था. जिसके बाद, राज्य सरकार में मंत्री के. टी.रामाराव ने शुक्रवार को गृह मंत्री, पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) और हैदराबाद शहर के पुलिस आयुक्त से मामले में फौरन कार्रवाई करने की अपील की थी.

विधायक के बेटे का नाम शामिल नहीं

डीसीपीने कहा, कि आरोपियों में एक प्रमुख व्यक्ति का बेटा भी शामिल है. खबरों के अनुसार, किसी विधायक के बेटे का नाम भी इस मामले में लिया जा रहा है. मगर अभी तक की गई जांच के अनुसार, किसी भी विधायक के बेटे का नाम शामिल नहीं है. डीसीपी ने कहा, कि आगे जांच में अगर किसी भी आरोपी का नाम सामने आता है तो उसे बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वो विधायक का बेटा ही क्यों न हो.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com