WTC फाइनल जीतना विश्व कप जीतने के बराबर: उमेश यादव

MELBOURNE, AUSTRALIA - DECEMBER 28: Umesh Yadav of India celebrates getting the wicket of Joe Burns of Australia during day three of the Second Test match between Australia and India at Melbourne Cricket Ground on December 28, 2020 in Melbourne, Australia. (Photo by Quinn Rooney/Getty Images)
MELBOURNE, AUSTRALIA - DECEMBER 28: Umesh Yadav of India celebrates getting the wicket of Joe Burns of Australia during day three of the Second Test match between Australia and India at Melbourne Cricket Ground on December 28, 2020 in Melbourne, Australia. (Photo by Quinn Rooney/Getty Images)

उमेश यादव ने एक इंटरव्यू में WTC फाइनल को विश्व कप फाइनल के बराबर बताया है। उनके अनुसार WTC फाइनल मैच खेलना अलग ही अनुभव है, क्योंकि यहां तक टीम कई धुरंधर टीमों को हरा कर पहुंची है। एकदिवसीय क्रिकेट में वापसी की उम्मीद खो चुके उमेश यादव के लिए टेस्ट प्लेयर के तौर पर WTC फाइनल मुकाबला जीतना  बेहद खास होगा।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप(WTC) का फाइनल मुकाबला 18 जून 2021 से 22 जून 2021 के बीच साउथहैंपटन में खेला जाएगा। WTC का फाइनल मुकाबला खेलने वाली भारतीय और न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी मजबूत टीमों को पछाड़कर यहां तक पहुंची हैं। WTC फाइनल को विश्व कप फाइनल के समान आंक रहे भारतीय तेज गेंदबाज, उमेश यादव(Umesh Yadav) भी ऐसा ही मानते हैं। उनके अनुसार यह फाइनल मैच जीतना विश्व कप फाइनल जीतने के बराबर होगा। हाल ही में उन्होंने एक साक्षात्कार में इस मैच के लिए अपनी तैयारी, भारत की तेज गेंदबाजी और विराट कोहली के नेतृत्व में तेज गेंदबाजों के उभरने पर बात की। 

उन्होंने इस इंटरव्यू में कहा कि फिलहाल लॉकडाउन(Lockdown) के दौरान वह सिर्फ  फिट और मानसिक तौर पर मजबूत रहने की कोशिश कर रहे हैं। यह उनकी इस मुकाबले की तैयारी का हिस्सा है। हम इस दौरान मानसिक और पॉजिटिव रह कर फाइनल खेलने की राह देख रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि एक टेस्ट प्लेयर के तौर पर उनके लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) जीतना विश्व कप जीतने के समान होगा। मेरा, इशांत शर्मा(Ishant Sharma) और अजिंक्य रहाणे(Ajinkya Rahane) जैसे खिलाड़ियों का एकदिवसीय क्रिकेट में वापसी करना लगभग ना के समान है, ऐसे में यह मुकाबला हमारे लिए विश्व कप फाइनल से कम नहीं है। साथ ही हम कई धुरंधर टीमों को पछाड़ कर यहां तक पहुंचे हैं, इसलिए इसका अनुभव भी बेहद ही अलग है।

भारतीय तेज गेंदबाजी को सर्वश्रेष्ठ बताने के सवाल पर उमेश यादव ने कहा कि यह तो नहीं कहा जा सकता  कि

भारत के पास सबसे तेज गेंदबाजी आक्रमण है क्योंकि कई और टीमों के पास भी बेहतरीन तेज गेंदबाज हैं। हालांकि इस समय हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं और आगे भी इसमें सुधार करते रहेंगे। विराट के नेतृत्व पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि कोहली ने टीम को शानदार तरीके से संभाला है। कप्तान के तौर पर वह हर खिलाड़ी को आजादी और आत्मविश्वास से लबरेज कर देते हैं, जिसका असर खिलाडी के बढ़िया प्रदर्शन के रूप में देखने को मिलता है।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com