सलिल अंकोला ने कहा, ‘पूर्व सीआईसी सदस्यों को सेलेक्टर्स की गवाही देने वाली बात से पहले मुझसे पूछना चाहिए था’

MUMBAI, INDIA - APRIL 25, 2008 : Salil Ankola - First anniversary of Peninsula Grand Hotel at Andheri . (Photo by Prasad Gori / Hindustan Times via Getty Images)
MUMBAI, INDIA - APRIL 25, 2008 : Salil Ankola - First anniversary of Peninsula Grand Hotel at Andheri . (Photo by Prasad Gori / Hindustan Times via Getty Images)

सलिल ने पूर्व सीआईसी सदस्य लालचंद राजपूत और राजू कुलकर्णी के एमसीएएएए के दिए बयानों पर आपत्ति जताई

पूर्व क्रिकेट इम्प्रूवमेंट कमेटी (सीआईसी) के सदस्य लालचंद राजपूत और राजू कुलकर्णी ने मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीएएएएए) को मुंबई टीम के सिलेक्शन पर दिए बयान में कहा कि, 'सेलेक्टर्स मुंबई टीम के सिलेक्शन पर गवाही देने के लिए तैयार हैं'। इस बयान पर अब मुंबई के मुख्य सेलेक्टर सलिल अंकोला  ने आपत्ति जताते हुए कहा कि, 'पूर्व सीआईसी सदस्यों को सेलेक्टर्स की गवाही देने वाली बात से पहले मुझसे पूछना चाहिए था'।

सलिल अंकोला भारत के पूर्व तेज गेंदबाज रह चुके हैं और अब मुंबई के मुख्य सेलेक्टर हैं। उन्होंने पूर्व सीआईसी सदस्यों के बयान पर आपत्ति जताई और कहा, 'राजपूत और कुलकर्णी को अपनी याचिका में ये कहने से पहले मुझसे पूछना चाहिए था। उन्होंने मुझसे इस विषय पर कोई बात नहीं की और ना ही उन्होंने मुझसे गवाही देने के लिए पूछा। उन्होंने ये कैसे कह दिया कि सेलेक्टर्स गवाही देंगे, जबकि मैं सिलेक्शन कमेटी का अध्यक्ष हूं। मैंने उनसे बात नहीं की, ना ही मैंने गवाही देने के लिए हां कहा है'।

सलिल ने आगे कहा, 'ये वो क्रिकेटर हैं जिनके साथ मैं खेल चुका हूं। ये मेरे दोस्त हैं और मेरे दिल में इनके लिए काफी इज्जत है। मगर, मैं इस विषय पर बात करने के लिए मजबूर हूं क्योंकि उन्होंने अपनी याचिका में सभी सेलेक्टर्स का नाम दिया है'।

साथ ही सलिल ने जनवरी में मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए हुए मुंबई टीम के सिलेक्शन में मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीएएएए) के सदस्यों द्वारा किसी भी प्रकार की दखलंदाजी से इंकार किया है। उन्होंने कहा, 'मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए कोविड को देखते हुए हर टीम में दो एक्स्ट्रा खिलाड़ी शामिल करना BCCI का फैसला था। टीम में एक्स्ट्रा खिलाड़ी शामिल करने का फैसला सेलेक्टर्स ने कप्तान और कोच से सलाह लेने के बाद ही किया था'।

दूसरी ओर  राजू कुलकर्णी ने कहा, 'मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीएएएए) के लोकपाल को भेजी हमारी याचिका में हमने कहा है कि सेलेक्टर्स बयान देने के लिए तैयार हैं। हमने इसमें किसी का नाम नहीं दिया है, इसलिए किसी सेलेक्टर्स को ये बताने की जरूरत नहीं है कि इसमें उनका नाम है। जरूरत पड़ने पर हम खुद गवाही देंगे'।

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com