Microsoft: साइबर अटैक को लेकर किया बड़ा ऐलान

Microsoft: साइबर अटैक को लेकर किया बड़ा ऐलान
LAS VEGAS - JANUARY 08: Visitors walk pass the Microsoft Corp. booth at the 2009 International Consumer Electronics Show at the Las Vegas Convention Center January 8, 2009 in Las Vegas, Nevada. CES, the world's largest annual consumer technology trade show, runs through January 11 and features 2,700 exhibitors showing off their latest products and services to more than 130,000 attendees. (Photo by Ethan Miller/Getty Images)

सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में, दिग्गज अमेरिकी आइटी कंपनी, Microsoft ने RiskIQ के अधिग्रहण का फैसला किया है. यह मुख्य रूप से, एक सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनी है. जिसकी मदद से, Microsoft, अपने उत्पादों को विस्तार और ग्राहकों को सुरक्षा प्रदान करना चाहता है. जो कि, इस वक्त विश्व स्तर पर साइबर अटैक के रूप में देखा जा सकता है. कंपनी ने सौदे की घोषणा तो की है, पर शर्तों का कोई खुलासा नहीं किया गया है.

आपको बता दें, कि RiskIQ, वर्ष 2009 में स्थापित, San Francisco की एक कंपनी है. जो कि, मुख्य रूप से क्लाउड सॉफ्टवेयर बनाती है. जिससे, सुरक्षा से जुड़े खतरों का पता लगाया जाता है. साथ ही, कॉरपोरेट नेटवर्क और डिवाइस पर कब और कहां हमला हो सकता है यह भी समझने को मिलता है. इस कंपनी के कुछ मुख्य ग्राहकों में, Facebook, BMW, American Express, आदि शामिल हैं.

Microsoft, बीते कुछ समय से लगातार अपने उत्पादों में सुरक्षा को महत्व देता रहा है. वहीं, साइबर अटैक से संबंधित एक लैब का संचालन भी कंपनी करती है. जिसका नाम, Microsoft Threat Intelligence Centre है. पिछले महीने भी, कंपनी ने ReFirm Labs को खरीदा था. जिसकी राशि को अज्ञात रखा गया है. 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, Microsoft ने इस डील में, 500 मिलियन डॉलर कैश से ज्यादा का भुगतान किया है. कंपनी का कहना है, कि वो एक मिशन पर काम कर रही है. जिसका मकसद, ग्राहकों के लिए चिप से लेकर क्लाउड तक को सुरक्षित करना है. 

वर्तमान समय में, Microsoft ने Covid Bonus की भी घोषणा की है. जो, जुलाई – अगस्त 2021 के बीच दिया जाना है. इसके अंतर्गत, कर्मचारियों को कंपनी 1500 डॉलर, लगभग 1.12 लाख रुपये बोनस के तौर पर दे रही है. जो महामारी के इस दौर में बड़ी राहत प्रदान करेगा. 

आपको बता दें, कि इस कंपनी के कार्यालय 21 देशों में हैं, जहां,1.75 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं. इस बोनस को देने में, कंपनी पर 200 मिलियन डॉलर का अतिरिक्त भार रहने की संभावना है. इससे पहले, Facebook Amazon भी ऐसी घोषणाएं कर चुके हैं. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com