एक दूसरे के बारे में तीखी टिप्पणी करने वाले अमरीकी राष्ट्रपति Joe Biden और रुसी राष्ट्रपति Vladimir Putin अपनी पहली बैठक से हैं बहुत संतुष्ट

एक दूसरे के बारे में तीखी टिप्पणी करने वाले अमरीकी राष्ट्रपति Joe Biden और रुसी राष्ट्रपति Vladimir Putin अपनी पहली बैठक से हैं बहुत संतुष्ट
TOPSHOT - US President Joe Biden (L) meets with Russian President Valdimir Putin at the 'Villa la Grange' in Geneva (Photo by DENIS BALIBOUSE / POOL / AFP) (Photo by DENIS BALIBOUSE/POOL/AFP via Getty Images)

बुधवार का दिन काफी खास रहा. विश्व के दो सबसे ताकतवर देशों के बीच एक हाई लेवल मीटिंग का आयोजन किया गया था. इस मीटिंग पर लगभग पूरे विश्व की नजरें टिकी हुई थी.यह हाई लेवल मीटिंग अमेरिकी राष्ट्रपति Joe Biden और रूसी राष्ट्रपति Vladimir Putin के बीच हुई है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस मीटिंग को लगभग 4 से 5 घन्टे तक चलना था. लेकिन यह मीटिंग निर्धारित समय से काफी पहले खत्म हो गयी. इस मीटिंग को झील के किनारे एक हरे-भरे स्विस मेन्शन में आयोजित किया गया था. यह हाई लेवल मीटिंग ऐसे समय में हुई है जब देशों के बीच संबंध अब तक के सबसे निचले स्तर पर हैं.

दोनों राष्ट्रपतियों ने मीटिंग की शुरुआत पर की सकारात्मक टिप्पणीयां

मीटिंग स्थल पर मिलने से पहले, Putin और Joe Biden ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी. जब दोनों नेता मीटिंग की शुरुआत में मीडिया के सामने आये तब दोनों ने मीटिंग को लेकर अच्छे कमेंट किये. biden ने इसे "दो महान शक्तियों" के बीच मीटिंग बोला. बाइडन ने ट्वीट कर कहा कि "आमने-सामने मिलना हमेशा बेहतर होता है." तो वहीं रुसी राष्ट्रपति, Putin ने कहा कि उन्हें उम्मीद है वार्ता "उत्पादक" होगी.

दोनों के बीच हुई मानवाधिकारों की बात

Putin ने स्वीकार किया कि biden ने उनके साथ मानवाधिकारों के मुद्दों को उठाया. उन्होंने बताया कि इसमें विपक्षी नेता, एलेक्सी नवलनी का नाम भी शामिल था.

साथ ही Putin ने कहा कि Biden अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति, Donald J Trump से बहुत अलग हैं. उन्होंने बताया कि इस बैठक में परमाणु समिति पर भी चर्चा की गयी.

दोनों देश राजदूतों को करेंगे नियुक्त

रूसी राष्ट्रपति ने बताया कि वह और Joe Biden आपसी तनाव को कम करने के लिए राष्ट्रीय राजदूतों को नियुक्त करने वाले हैं. उन्होंने यह भी बताया, कि सम्मेलन के दौरान दोनों के बीच कोई खटास नहीं थी. दोनों के बीच काफी अच्छे स्तर की बातचीत और बैठक हुई है.

अक्सर दोनों राष्ट्रपति एक दूसरे खिलाफ नजर आए

पहले दोनों राष्ट्रपतियों के बीच कोई मनमुटाव नहीं था. लेकिन यह मन मुटाव पिछले 4 महीनों से स्पष्ट रूप से दिखाई दिया है. दोनों राष्ट्रपति एक दूसरे के खिलाफ तीखी बयानबाजी भी करते हुए दिखे हैं. लेकिन संवाददाताओं द्वारा पूछे जाने पर दोनों ने ही हमेशा इस बात को नकारा है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com