Yogi Adityanath News: अगले 6 महीनों के लिए थमेगा राज्य में हड़ताल का सिलसिला, अधिसूचना हुई जारी

Yogi Adityanath News: अगले 6 महीनों के लिए थमेगा राज्य में हड़ताल का सिलसिला, अधिसूचना हुई जारी

उत्तर प्रदेश में Yogi Adityanath सरकार ने एक नई अधिसूचना जारी की है. इस अधिसूचना के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में अगले 6 महीनों तक कोई भी सरकारी दफ्तर हड़ताल नहीं कर सकेगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि Covid-19 महामारी के दौरान भी ऐसा ही आदेश लागू किया गया था. लेकिन उस समय, महामारी को फैलने से रोकने के लिए इस आदेश को लागू किया गया था. 

यह आदेश जारी करने के लिए Yogi Adityanath सरकार ने ESMA(Essential Services Maintenance Act) की मदद ली है. इस एक्ट के मुताबिक, एक्ट लागू हो जाने के बाद राज्य में किसी भी जगह पर प्रदर्शन या हड़ताल पूरी तरह बैन कर दी जाती हैं. एम्सा एक्ट, अधिनयिम 1966 के तहत, गवर्नर की मंजूरी मिलने के बाद लागू किया जाता है. यह एक्ट राज्य सरकार को उन कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का अधिकार देता है, जो हड़ताल पर हैं या सामान्य जीवन के लिए महत्वपूर्ण और आवश्यक सेवाओं पर काम करने से इनकार करते हैं. अगर कोई नियम नहीं मानता है, तो इस एक्ट के अंतर्गत पुलिस के पास बिना वारंट के किसी को भी गिरफ्तार करने की शक्ति मौजूद होती है.

अधिनियम के उल्लंघन करने पर, एक वर्ष तक के कारावास या 1000 रुपए जुर्माना लगाने का प्रावधान है. कार्मिक विभाग के अपर मुख्य सचिव, डॉ. Devesh Kumar Chaturvedi  ने इस अधिसूचना के बारे में कहा है, कि "मुख्यमंत्री Yogi Adityanath जी का आदेश है, कि उत्तर प्रदेश के राज्य क्रिया कलापों से संबंधित किसी लोक सेवा, निगमों और स्थानीय प्राधिकरणों में हड़ताल पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है. अगर इसके बाद भी कोई हड़ताल करता है, तो ऐसा करने वालों के खिलाफ विधिक व्यवस्था के तहत कार्रवाई की जाएगी."

सूत्रों के हवाले से ख़बर है, कि Yogi Adityanath सरकार द्वारा यह फैसला Covid-19 के Omicron वेरिएंट के बढ़ते मामलों को देख कर ही लिया गया है. अगर स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों को देखें, तो इस संक्रमण के 23 नए मामले दर्ज किए गए, जिससे राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या 196 हो गई है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com