Varun Gandhi News: UPTET परीक्षा के बाद, अब बेरोज़गारी के मुद्दे पर उठाए सरकार पर सवाल

Varun Gandhi News: UPTET परीक्षा के बाद, अब बेरोज़गारी के मुद्दे पर उठाए सरकार पर सवाल

पीलीभीत लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद Varun Gandhi ने एक बार फिर अपनी ही सरकार पर सवाल उठाए हैं. किसान आंदोलन पर भाजपा सरकार के खिलाफ़ आवाज़ उठाने वाले Varun Gandhi ने, अब बेरोज़गारी और नौकरी जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरा है. भाजपा सरकार पर सवाल खड़ा करते हुए उन्होंने कहा, कि आखिर कब तक भारत का नौजवान सब्र करे? 

Varun Gandhi ने आज एक ट्वीट करते हुए लिखा, कि "पहले तो सरकारी नौकरी नहीं है, फिर भी कोई मौका आए, तो पेपर लीक हो. परीक्षा दे दी, तो सालों साल रिज़ल्ट नहीं आता, फिर किसी घोटाले के कारण वह रद्द हो जाए. रेलवे के ग्रुप डी के सवा करोड़ नौजवान, पिछले दो सालों से परिणामों के इंतज़ार में हैं. सेना में भर्ती का भी यही हाल है. आखिर कब तक सब्र करे भारत का नौजवान? 

UPTET परीक्षा पेपर लीक पर भी Varun Gandhi ने उठाए थे सरकार पर सवाल

यह पहली बार नहीं है जब Varun Gandhi ने अपनी ही सरकार पर सवाल खड़े किए हों. हाल ही में, उत्तर प्रदेश में UPTET के पेपर लीक होने के मामले को लेकर भी उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार पर ज़ोरदार हमला किया था. 

Varun Gandhi ने तब एक ट्वीट करते हुए लिखा था, कि "UPTET परीक्षा का पेपर लीक होना, लाखों युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ है. इस मामले की छोटी मछलियों पर कार्रवाई से काम नहीं चलेगा. सरकार उनके राजनैतिक संरक्षण शिक्षा माफिया पर कठोर कार्रवाई करे, क्योंकि अधिकांश शिक्षण संस्थानों के मालिक राजनीतिक रसूखदार हैं. उन पर कारवाई कब होगी?"

लखीमपुर खीरी कांड पर Ajay Mishra पर की थी कारवाई की मांग

UPTET से पहले, Varun Gandhi ने प्रधानमंत्री को एक खत लिखकर लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर, Ajay Mishra पर कारवाई करने की मांग की थी. उन्होंने कहा था, कि "वरिष्ठ पदों पर बैठे कई नेताओं ने आंदोलनकारी किसानों के खिलाफ भड़काऊ बयान दिये हैं. इस तरह के बयानों और आंदोलन के इर्दगिर्द बने प्रतिकूल माहौल का ही नतीजा है, कि लखीमपुर खीरी में 5 किसानों को वाहनों ने कुचल कर मार डाला. यह दिल दहलाने वाली घटना है. इस घटना से जुड़े केंद्रीय मंत्री के खिलाफ, उचित कार्रवाई की जाए ताकि निष्पक्ष जांच हो सके."

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com