Uttar Pradesh: गंगा नदी को किया जाएगा साफ, सरकार ने बनाई योजना

Uttar Pradesh: गंगा नदी को किया जाएगा साफ, सरकार ने बनाई योजना

भारत सरकार के केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री, पुरुषोत्तम रूपाला ने 08 अक्टूबर, 2021 को Uttar Pradesh में River Ranching Program का शुभारंभ किया है. यह River Ranching Program उत्तर प्रदेश, बृजघाट, गढ़ मुक्तेश्वर में शुरू की गई है. Uttar Pradesh के साथ उड़ीसा, उत्तराखंड, त्रिपुरा और छत्तीसगढ़ ने भी इस National River Ranching Program के शुभारंभ में भाग लिया.

यह नदी पालन कार्यक्रम प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत एक विशेष गतिविधि के रूप में शुरू किया गया था, ताकि मछली उत्पादन को उत्पादक रूप से विस्तार, गहराई, विविधता और पानी का उपयोग करके बढ़ाया जा सके. River Ranching Program के तहत Uttar Pradesh, बृजघाट, तिगरी, मेरठ, गढ़मुक्तेश्वर और बिजनौर में तीन स्थलों पर 03 लाख छोटी मछलियों को पाला गया.

Uttar Pradesh में राष्ट्रीय स्तर पर इस River Ranching Program के शुभारंभ में लगभग 500 लोगों ने भाग लिया. उत्तराखंड के हरिद्वार ज़िले में गंगा नदी के चंडी घाट पर 1 लाख छोटी मछलियों का प्रजनन किया गया. त्रिपुरा में 04 स्थलों पर और उदयपुर में गोमती नदी पर 85 लाख छोटी मछलियों का प्रजनन किया गया. तेलियामुरा में खोवाई नदी, कमालपुर में धलाई नदी और दशमीघाट में देव नदी पर आयोजित इस कार्यक्रम में करीब, 218 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया.

जैसे-जैसे मानव आबादी बढ़ रही है, उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन की आवश्यकता और मछली की मांग भी बढ़ने लगी है. इस प्रकार आर्थिक और पर्यावरणीय रूप से मछली संसाधनों के सतत उपयोग और संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए, यह River Ranching Program शुरू किया गया था. यह कार्यक्रम स्थायी मछली पालन प्राप्त करने और जैव विविधता के संरक्षण में मददगार साबित होगी. यह योजना पारिस्थितिकी तंत्र का आकलन करने, मछली आवास में गिरावट को कम करने और सामाजिक-आर्थिक लाभों को अधिकतम करने में मदद करेगी. साथ ही इससे पारंपरिक मत्स्य पालन, व्यापार और अंतर्देशीय समुदायों की सामाजिक सुरक्षा के साथ-साथ पारिस्थितिकी तंत्र की स्थिरता का उन्नयन भी सुनिश्चित होगा.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com