Ramdev: योग गुरु को झटका, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) ने भेजा 1000 करोड़ का मानहानि नोटिस

Ramdev: योग गुरु को झटका, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) ने भेजा 1000 करोड़ का मानहानि नोटिस
Yoga guru Baba Ramdev addresses an all party condolence meeting organised for former Prime Minister Atal Bihari Vajpayee, in New Delhi on Monday, August 20, 2018. (Photo by Indraneel Chowdhury/NurPhoto via Getty Images)

बाबा रामदेव(Ramdev) एलोपैथी और डॉक्टरों के खिलाफ बयान देकर विवादों में घिर गए हैं। अब इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) की उत्तराखंड ब्रांच ने बाबा रामदेव(Ramdev) को 1000 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा है।

हाल ही में योग गुरु बाबा रामदेव(Ramdev), डॉक्टरों और एलोपैथी के खिलाफ बयान देकर विवादों में घिर गए हैं। हालांकि स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के दखल देने के बाद बाबा रामदेव(Ramdev) ने अपना बयान वापस ले लिया था। मगर फिर भी बाबा रामदेव(Ramdev) की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA)  लगातार उन पर माफी मांगने का दबाव बना रहा है। अब इस मामले में एक नया मोड़ आ गया है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) की उत्तराखंड ब्रांच ने बाबा रामदेव(Ramdev) को 1000 करोड़ रुपए का मानहानि नोटिस भेजा है। 

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) द्वारा भेजे गए इस नोटिस में कहा गया है कि  बाबा रामदेव(Ramdev) अगले 15 दिनों के अंदर अपने मिथ्या और एलोपैथी का दुष्प्रचार करते बयानों का खंडन करते हुए क्लिप बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर करें। साथ ही इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) से लिखित में क्षमा मांगने की बात भी कही गई है। नोटिस में कहा गया है की अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) की उत्तराखंड ब्रांच के दो हज़ार सदस्यों के लिए मानहानि के रूप में प्रति सदस्य 50 लाख रुपए की दर से 1000 करोड़ रुपए की मांग की जाएगी। नोटिस में कहा गया है कि योग गुरु के बयान से डॉक्टरों के सम्मान को ठेस पहुंची है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि बाबा रामदेव(Ramdev) ने एलोपैथी को मूर्खतापूर्ण विज्ञान बताया था। साथ ही उन्होंने कहा था कि एलोपैथीक दवाएं लेने के बावजूद लाखों लोगों की मौत हुई है। योग गुरु बाबा रामदेव(Ramdev) ने योग शिविर में एक युवक से हुई बातचीत का हवाला देते हुए कहा कि लोग डॉक्टर को टर…टर…कहते हुए तंज कस  रहे हैं। इसके अलावा वीडियो में उन्होंने ये भी कहा कि 1 हजार डॉक्टर कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद मर गए, लोग कह रहे हैं कि बताइये वे डॉक्टर अपने आप को ही नहीं बचा पाए। हालांकि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन(IMA) के उन पर केस दर्ज करने के फैसले के बाद उन्होंने अपना बयान वापस ले लिया था। 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com