Rahul Gandhi News: तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का धरना प्रदर्शन

Rahul Gandhi News: तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का धरना प्रदर्शन

केंद्र सरकार द्वारा पारित तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ लंबे समय से विरोध हो रहा है. एक तरफ किसानों का विरोध दूसरी और सरकार का अड़ियल रवैया. कोई इस पर झुकने को तैयार नही. इन्ही कानूनों के खिलाफ कांग्रेस लीडर Rahul Gandhi ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. Rahul Gandhi ने किसानों के सपोर्ट में संसद भवन के बाहर महात्मा गांधी जी की मूर्ति के सामने कांग्रेसी सांसदों के साथ धरना प्रदर्शन किया. सांसदों के हाथ में तख्तियां और बेनर थे, जिन पर कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग की गई है. 

वहीं कई महीनों से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने आज फिर से दिल्ली की और रुख किया है. पिछली बार 26 जनवरी को किसानों की रैली के दौरान उग्र प्रदर्शन हुए थे. किसानों को 22 जुलाई से 9 अगस्त तक, सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक जंतर-मंतर पर धरना प्रदर्शन की अनुमति दी गई है. हालांकि दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने मंजूरी के साथ कुछ शर्तें भी रखी हैं. संसद भवन तक किसान मार्च नहीं निकालेंगे, ये भी एक शर्त रखी गई है.

भारतीय किसान यूनियन नेता, राकेश टिकैत समेत कई किसान जंतर-मंतर पहुच चुके है. करीब 200 किसानों को बस द्वारा जंतर मंतर पहुचाया जाएगा. राकेश टिकैत ने कहा "जंतर मंतर पर वे अपनी किसान संसद लगाएंगे." 

ये है खेती से जुड़े तीन कृषि कानून 

1. कॄषक उपज व्यापार और वाणिज्य विधेयक 2020
2. कृषक कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक 2020 
3. आवश्यक वस्तु(संसोधन) विधेयक 2020

सरकार और किसानों के बीच कृषि कानूनों को लेकर अब तक कई दौरों की बैठक हो चुकी है लेकिन नतीजा शून्य रहा. किसान एक ही मांग पर अड़े है कि तीनो कानूनों को निरस्त किया जाए. वहीं केंद्र सरकार ने कहा कि वे किसानों के मुताबिक कानूनों में बदलाव कर सकती है, लेकिन कानून निरस्त नहीं किए जाएंगे. 

यह भी पढ़ें: Govindas Konthoujam: सौंपा इस्तीफा, काँग्रेस पार्टी को सबसे बड़ा सियासी झटका

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com