Rahul Gandhi: विपक्षी दलों के साथ हुई ब्रेकफास्ट मीटिंग, साइकिल चलाकर किया केंद्र पर हल्ला बोल

Rahul Gandhi: विपक्षी दलों के साथ हुई ब्रेकफास्ट मीटिंग, साइकिल चलाकर किया केंद्र पर हल्ला बोल

केंद्र सरकार के खिलाफ विपक्ष की एकजुटता दिखाने और सरकार पर हल्ला बोलने के लिए कांग्रेस के सांसद Rahul Gandhi ने विपक्ष के नेताओ के साथ ब्रेकफास्ट मीटिंग रखी थी. मीटिंग में तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रीय जनता दल (RJD), शिवसेना, समाजवादी पार्टी, मार्क्सवाद कम्युनिस्ट पार्टी (MKP), केरल कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा समेत कई अन्य दलों के सांसद शामिल थे. अब इस मीटिंग के बाद विपक्षी सांसदों के साथ Rahul Gandhi साइकिल चलाकर संसद तक पहुंचे है. 

Rahul Gandhi की ब्रेकफास्ट मीटिंग की वजह 

ब्रेकफास्ट मीटिंग में Rahul Gandhi ने कहा कि, "हम सभी को एकजुट होकर रहना पड़ेगा, तभी हम लोगों की आवाज़ को एकजुट होकर ऊपर उठा पाएंगे. आवाज़ जितनी एकजुट होगी उतनी ही बुलंद होगी. जिससे भाजपा और RSS इन आवाज़ों को नहीं दबा पाएंगी." 

सूत्रों के अनुसार मीटिंग में संसद में केंद्र सरकार को किन मुद्दों पर घेरना है, इस लेकर चर्चा हुई. विपक्षी नेता संसद में पेगासस, किसान आंदोलन समेत कई अन्य मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं. पिछले हफ्ते भी विपक्षी दलों ने सरकार को घेरने के लिए एक बैठक आयोजित की थी. 

विपक्ष का साइकिल मार्च 

ब्रेकफास्ट मीटिंग के पश्चात Rahul Gandhi ने 15 विपक्षी दलों के नेता के साथ मिलकर संसद की ओर साइकिल मार्च निकाला. विपक्षी दलों ने साइकिल चलाते हुए पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है.  

Rahul Gandhi शुरुआत से ही पेगासस मुद्दे पर आवाज़ उठा रहे हैं. आपको बता दे, की संसद के मॉनसून सत्र से ठीक पहले मीडिया में भारत के कई नेताओं, पत्रकारों और जजों की जासूसी की खबरें सामने आईं थी. जिसमे कांग्रेस के सांसद और पूर्व अध्यक्ष Rahul Gandhi का नाम भी शामिल था. इसके बाद से ही पेगासस के मुद्दे पर उनका रवैया काफी आक्रमक हो गया. वे लगातार इसी मुद्दे को उठा रहे हैं. वहीं विपक्ष चाहता है की प्रधानमंत्री और गृहमंत्री इस पर अपना बयान संसद में स्पष्ट करें. इन मुद्दों को लेकर संसद भी शुरुआत से अभी तक हंगामे की भेंट चढ़ा है. पिछले 15 दिनों में कई बार संसद की कारवाई को स्थगित करना पड़ा है. 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com