Priyanka Gandhi Vadra: बेटी को स्कूटी से लेकर सरकार को घेरने में सामने नेत्री

Priyanka Gandhi Vadra: बेटी को स्कूटी से लेकर सरकार को घेरने में सामने नेत्री

वर्ष 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों को लेकर, Priyanka Gandhi Vadra पूरी तैयारी में नज़र आ रही है. साथ ही, पिछले कुछ दिनों में उन्होंने उत्तर प्रदेश में बहुत सी नई योजनाओं का भी ऐलान किया है. वहीं अपने ट्वीटर अकाउंट के माध्यम से भी, Priyanka उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर तंज कसने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है. पिछले कुछ दिनों के अंतराल में ही, दो बार ऐसा वाकया देखने को मिल चुका है.

Priyanka Gandhi Vadra ने, पहले भाजपा सरकार पर बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर तंज कसा था. साथ ही एक ट्वीट में उन्होंने सरकार को घेरते हुए लिखा था, कि "हर रोज़ जब आप महंगा पेट्रोल-डीजल खरीदें तब यह याद रखें, कि अब तक भाजपा सरकार पेट्रोलियम पदार्थों पर टैक्स से 23 लाख करोड़ रूपए कमा चुकी है. हर रोज़ जब आप महंगा तेल-सब्जी खरीदें तब याद रखिए, कि इस सरकार में 97% परिवारों की आय घट गई है. मगर खबरों के अनुसार, मोदी जी के खरबपति मित्र हर रोज 1000 करोड़ रूपए कमाते हैं". इसी क्रम में, आज भी Priyanka Gandhi Vadra ने भाजपा सरकार पर धान की खरीद को लेकर सवाल खड़े किए है. उन्होंने कहा है, कि "धान की खरीददारी में उचित व्यवस्था न होने के कारण, लखीमपुर के एक किसान को मंडी में पड़े धान में आग लगानी पड़ी. खाद वितरण में कुव्यवस्था के चलते, ललितपुर के एक किसान की लाइन में खड़े-खड़े मृत्यु हो गई. उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार, किसानों को प्रताड़ित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है".

उत्तर प्रदेश में Priyanka Gandhi Vadra द्वारा घोषित योजनाएं

कांग्रेस महासचिव, Priyanka Gandhi Vadra ने गुरुवार 21 अक्टूबर, 2021 को घोषणा की थी, कि सभी कक्षा 12 पास लड़कियों को एक स्मार्टफोन दिया जाएगा, जबकि स्नातक में दाखिल लड़कियों को एक इलेक्ट्रॉनिक स्कूटी मिलेगी, अगर उनकी पार्टी वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में सरकार बनाती है. इस बात की जानकारी उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल पर भी साझा की थी. इसके पहले कांग्रेस नेत्री ने यह भी घोषणा की थी, कि उनकी पार्टी यूपी में आने वाले विधानसभा चुनावों में 40% महिलाओं को टिकट देगी, जिससे महिलाओं को सत्ता में पूर्ण भागीदार बनाया जा सके.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com