खेल मंत्री संदीप सिंह पर मनोहर लाल खट्टर ने तोड़ी चुप्पी, मंत्री से छीना खेल विभाग

खेल मंत्री संदीप सिंह पर मनोहर लाल खट्टर ने तोड़ी चुप्पी, मंत्री से छीना खेल विभाग

हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह (Sandeep Singh) पर जूनियर महिला कोच के लगाए आरोपों पर अब मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने चुप्पी ने तोड़ी है. उन्होंने इस पूरे विवाद में कहा, कि “महिला कोच गलत बयान दे रही हैं. इस तरह आरोप लगाने से कोई दोषी साबित नहीं होता, उसकी पुलिस छानबीन करती है. इसके बाद ही यह सिद्ध होता है, कि जो आरोप लगाए गए हैं वह सही है या नहीं.”

मनोहर लाल खट्टर ने इतना ज़रूर कहा, कि संदीप सिंह को खेल विभाग से हटा दिया गया है. चंडीगढ़ पुलिस मामले की जांच कर रही है. हरियाणा पुलिस की टीम भी तथ्यों का पता लगाने में जुटी है. उसके बाद जो भी सामने आएगा, उस हिसाब से कार्रवाई करेंगे. हरियाणा के मुख्यमंत्री ने यह भी बताया, कि “हरियाणा सरकार पूरे मामले की निष्पक्ष जांच चाहती है. इसलिए, संदीप सिंह से खेल विभाग वापस ले लिया गया है. खेल विभाग उनके पास होने से यह सवाल उठाया जा सकता है, कि मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो रही है. इसलिए उनको वहां से हटा दिया गया है. जांच ठीक से हो जल्द ही, तो पूरे मामले में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. जांच की जो भी रिपोर्ट आएगी, उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.”

इसी बीच, जूनियर महिला कोच ने संदीप सिंह पर फिर हमला बोला है. उन्होंने कहा है, कि “उन्होंने अभी सिर्फ खेल विभाग ही छोड़ा है. मंत्री वह अभी भी हैं. खेल विभाग के कुछ अधिकारी और खिलाड़ी मेरा साथ दे रहे हैं, जिन्हें संदीप सिंह धमका रहे हैं. जबकि उन्हें नैतिकता के आधार पर सभी पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए.”

महिला कोच ने कहा, कि हरियाणा पुलिस के द्वारा जांच के लिए बनाई गई कमेटी पर उन्हें संदेह है. इसकी वजह यह है, कि जब घटनास्थल चंडीगढ़ है, तो वह चंडीगढ़ पुलिस की जांच पर ही भरोसा करेंगी. उन्होंने कहा, कि हरियाणा पुलिस की ओर से उन्हें बुलाया गया था, लेकिन वह पेश नहीं हुईं. पीड़िता ने बताया, कि वह सिर्फ चंडीगढ़ पुलिस की जांच में शामिल होंगी.

Image Source


यह भी पढ़ें: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की दलाई लामा से मुलाकात

Related Stories

No stories found.
logo
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com