IRCTC Scam News: दिल्ली कोर्ट ने तेजस्वी यादव की जमानत रद्द करने से किया इनकार

IRCTC Scam News: दिल्ली कोर्ट ने तेजस्वी यादव की जमानत रद्द करने से किया इनकार

आज मंगलवार 18 अक्टूबर 2022 का दिन लालू प्रसाद यादव के लिए ख़ास नज़र आया. आपको बता दें, कि दिल्ली की एक अदालत ने फिलहाल भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम (Indian Railways Catering and Tourism Corporation) यानी आईआरसीटीसी (IRCTC) घोटाले में सीबीआई (CBI) द्वारा दायर याचिका पर बिहार के उपमुख्यमंत्री और लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) की जमानत रद्द करने से इनकार कर दिया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, अदालत ने तेजस्वी यादव को जमानत देने से इनकार करने के लिए कोई विशेष आधार नहीं पाया है. हालांकि, सीबीआई में विशेष न्यायाधीश गीतांजलि गोयल (Geetanjali Goel) ने उनको अधिक सावधान रहने और सार्वजनिक रूप से बोलते समय उचित शब्दों का चयन करने के लिए कहा है.

आपको बता दें, कि सीबीआई ने दावा किया था कि तेजस्वी ने हाल ही में एक संवाददाता सम्मेलन में कानून की प्रक्रिया को नष्ट करने और पूरी जांच को असफल करने का प्रयास किया था. वहीं, तेजस्वी यादव ने अदालत ने दलीलें सुनने के बाद दावा किया, कि उन्होंने पहले दी गई जमानत में निर्धारित किसी भी शर्त का उल्लंघन नहीं किया था.

तेजस्वी ने कहा, 'मैं (यादव) विपक्षी दल में हूं और गलत काम पर सवाल उठाना मेरा कर्तव्य है. मौजूदा सरकार सीबीआई और ईडी का 'दुरुपयोग' कर रही है और सभी विपक्षी दल इसे महसूस कर रहे हैं." वहीं, सीबीआइ ने सुनवाई के दौरान कोर्ट में कहा, कि अगर तेजस्वी की जमानत जारी रही तो वह आईआरसीटीसी घोटाले में सीबीआई कीजांच को प्रभावित कर सकते हैं. ऐसे में, उनकी जमानत को रद की जाए.

तेजस्वी यादव का बयान

बिहार राज्य के पटना में तेजस्वी यादव ने इस मामले को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था, कि “क्या सीबीआई अधिकारियों की मां-बहनें और बच्चे नहीं होते? क्या उनका परिवार नहीं है? क्या वह हमेशा सीबीआई अधिकारी रहेंगे? क्या सिर्फ भाजपा में बनी रहेगी? आप क्या संदेश देना चाहते हैं? आपको अपने संवैधानिक संगठन के कर्तव्य का पालन करना चाहिए.”

Image Source

यह भी पढ़ें: Narendra Modi Ayodhya Deepotsava: इस ख़ास दिन रामलला के दर्शन करेंगे प्रधानमंत्री

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com