मल्लिकार्जुन खड़गे के प्रधानमंत्री को ‘रावण’ कहने पर खड़ा हुआ राजनीतिक बवाल

मल्लिकार्जुन खड़गे के प्रधानमंत्री को ‘रावण’ कहने पर खड़ा हुआ राजनीतिक बवाल

गुजरात विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Elections) के लिए सभी राजनीतिक पार्टियां अपना ज़ोर लगा रही हैं. इसी बीच, कांग्रेस (Congress) के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को "रावण" कहकर संबोधित किया. उनकी इसी टिप्पणी पर अब एक बड़ा राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया, जहां भाजपा (BJP) ने खड़गे पर बार-बार "गुजरात के बेटे का अपमान" करने का आरोप लगाया.

आपको बता दें, कि गुजरात में 1 और 5 दिसंबर को मतदान होंगे, जिसके नतीजे 8 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे. मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर यह टिप्पणी अहमदाबाद में एक रैली को संबोधित करने के दौरान की. उन्होंने कहा, "मोदी जी प्रधानमंत्री हैं. अपने काम को भूलकर वह नगर निगम चुनाव, विधायक चुनाव, एमपी चुनाव, हर जगह प्रचार करते हैं. हर समय वह अपने बारे में बात करते रहते हैं. 'आप किसी को मत देखो, बस मोदी के नाम पर वोट दो'. आपका चेहरा कितनी बार देखें? आपके कितने रूप हैं? क्या आपके रावण जैसे 100 सिर हैं?"

कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा, कि हर चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार प्रधानमंत्री मोदी के नाम पर लोगों से वोट मांगते हैं. उन्होंने भाजपा और प्रधानमंत्री से सवाल पूछते हुए कहा, "मैं देख रहा हूं कि मोदी जी के नाम पर वोट मांगा जाता है, चाहे वह नगर पालिका चुनाव हों, नगर निगम चुनाव हों या राज्य चुनाव हों. उम्मीदवार के नाम पर वोट मांगे. क्या मोदी नगरपालिका में आकर काम करने वाले हैं? क्या वह आपकी ज़रूरत के समय आपकी मदद करने वाले हैं.”

खड़गे के इसी बयान पर अब भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय (Amit Malviya) ने कांग्रेस अध्यक्ष पर "गुजरात के बेटे का अपमान" करने का आरोप लगाया. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, "गुजरात चुनाव की गर्मी सहने में असमर्थ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने अपने शब्दों पर नियंत्रण खो दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रावण कहा. "मौत का सौदागर" से "रावण" तक, कांग्रेस द्वारा गुजरात और उसके बेटे का अपमान करना जारी है.”

ग़ौरतलब है, अमित मालवीय द्वारा “मौत का सौदागर" टिप्पणी साल 2007 के गुजरात चुनाव के दौरान की है. उस वक़्त कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने अपने एक ट्वीट में साल 2002 में हुए दंगों के लिए प्रधानमंत्री मोदी, जो उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे, को ज़िम्मेदार बताते हुए उन्हें "मौत का सौदागर” कहा था.

Image Source

यह भी पढ़ें: Gujarat Assembly Elections 2022: आज राज्य के 3 ज़िलों में प्रधानमंत्री मोदी करेंगे रैलियां

Related Stories

No stories found.
logo
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com