पंजाब में भाजपा ने किया कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का बहिष्कार, यात्रा को बताया दिशाहीन

पंजाब में भाजपा ने किया कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का बहिष्कार, यात्रा को बताया दिशाहीन

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की पंजाब (Punjab) में शुरू होने वाली 'भारत जोड़ो यात्रा' (Bharat Jodi Yatra) या 'एकजुट भारत मार्च' से पहले, भाजपा (BJP) ने पंजाब के लोगों से 'यात्रा' का बहिष्कार करने का आग्रह किया है, जिसमें कांग्रेस (Congress) पर सिख विरोधी और वर्षों से पंजाब विरोधी रवैया अपनाने का आरोप लगाया गया है. 

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जयवीर शेरगिल (Jaiveer Shergill) ने 10 जनवरी, 2023 को कहा, कि कांग्रेस की सिख विरोधी भावना खत्म नहीं हुई है, और समय बीतने के साथ यह और बढ़ती गई है. उन्होंने एक बयान में कहा, “जहां एक ओर देश देख रहा है, कि भाजपा सिख समुदाय का सम्मान कर रही है, 26 दिसंबर (चार साहिबज़ादों का शहीदी दिवस) को 'वीर बाल दिवस' के रूप में समर्पित कर रही है, करतारपुर कॉरिडोर खोल रही है और श्री गुरु ग्रंथ साहिब को युद्ध से सुरक्षित कर रही है. दूसरी तरफ कांग्रेस 1984 में सिख विरोधी दंगों के लिए ज़िम्मेदार लोगों की खुलेआम ताजपोशी कर रही है. सिख विरोधी होना कांग्रेस पार्टी का असली चरित्र है.”

शेरगिल ने यात्रा को पूरी तरह से "दिशाहीन" और राहुल गांधी द्वारा अपनी बयानबाज़ी और नाटकीयता से लोगों को मूर्ख बनाने का एक "हताश प्रयास" करार दिया. उन्होंने कहा कि गांधी को पंजाब में 'यात्रा' निकालने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है, वह भी तब जब कांग्रेस ने सिख समुदाय को अलग-थलग करने का कोई प्रयास नहीं छोड़ा है. उन्होंने कहा, "मैं पंजाब के लोगों से यात्रा का पूरी तरह से बहिष्कार करने की अपील करता हूं. भारत जोड़ो यात्रा और कुछ नहीं बल्कि राहुल गांधी को बिना किसी राजनीतिक रिटर्न के व्यस्त रखने का एक महंगा पीआर स्टंट है."

भारत जोड़ो यात्रा ने 10 जनवरी को हरियाणा से पंजाब में प्रवेश किया, और राहुल गांधी ने मंगलवार को अमृतसर में स्वर्ण मंदिर का दौरा किया. इसके बाद, यात्रा बुधवार को पंजाब चरण शुरू करेगी. पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश (Jayaram Ramesh) ने एक ट्वीट में कहा, "दिन 116 - भारत जोड़ो यात्रा अब अंबाला में हरियाणा चरण को समाप्त करती है. कल सुबह पंजाब लेग है. अमृतसर में सबसे पवित्र स्वर्ण मंदिर की तीर्थयात्रा से इसकी शुरुआत करने का इससे बेहतर तरीका कोई नहीं हो सकता. आज दोपहर कोई पदयात्रा नहीं होगी ताकि राहुल गांधी वहां अपना सम्मान व्यक्त कर सकें.”

Image Source


यह भी पढ़ें: राहुल गांधी का साथ देने आया ये ख़ास मेहमान, प्रियंका गांधी ने भी किया पोस्ट

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com