Gujarat Assembly Elections 2022: गुजरात के चुनावी मैदान में आमने सामने राहुल-मोदी

Gujarat Assembly Elections 2022: गुजरात के चुनावी मैदान में आमने सामने राहुल-मोदी

1 दिसंबर को होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Elections) के पहले चरण के लिए प्रचार सोमवार से शुरू हुए. इस दौरान, कांग्रेस (Congress) नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने राज्य में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित किया और भाजपा (BJP) पर तीखी टिप्पणी की. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने अपनी रैली के दौरान कॉंग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ (Bharat Jodo Yatra) का मज़ाक़ उड़ाया.

सोमवार को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से थोड़ा विराम लेने के बाद सूरत के महुवा ज़िले में एक रैली के दौरान, राहुल गांधी ने गुजरात में आदिवासियों के साथ कॉंग्रेस के पारंपरिक बंधन को मज़बूत करने की मांग की. उन्होंने कहा, कि देश भर की ज़मीन और वन संसाधनों पर उनका पहला अधिकार है. वहीं आदिवासियों के लिए भाजपा द्वारा इस्तेमाल किए गए ‘वनवासी’ शब्द की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा, कि इस शब्द का इस्तेमाल करने के पीछे भाजपा की असली मंशा, आदिवासियों को शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं से दूर जंगलों में रखना है.

राहुल ने यह कहते हुए, कि आदिवासी भारत में ज़मीन और जंगलों के असली मालिक हैं, उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि केंद्र में मौजूदा व्यवस्था आदिवासियों को उनकी ज़मीन से दूर करना चाहती है और उन्हें बड़े-बड़े उद्योगपतियों को सौंपना चाहती है.

दूसरी ओर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुरेंद्रनगर में एक जनसभा को संबोधित किया. उस दौरान उन्होंने बिना नाम लिए राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा, कि जिन लोगों को जनता ने सत्ता से बाहर कर दिया है, वह अब सत्ता में वापसी के लिए पदयात्रा निकाल रहे हैं. उन्होंने कहा, कि “कुछ लोग सत्ता में वापस आने के लिए पदयात्रा कर रहे हैं. वह उन लोगों को भी साथ ले रहे हैं जिन्होंने नर्मदा बांध परियोजना (Narmada Dam Project) को 40 साल तक मुकदमे के जरिए रोक कर रखा और गुजरात को प्यासा रखा. इस चुनाव में गुजरात के लोग उन लोगों को दंडित करेंगे, जो नर्मदा परियोजना के खिलाफ थे.”

इसी बीच, राहुल गांधी की रैली में कांग्रेस के पूर्व नेता माधवसिंह सोलंकी (Madhavsinh Solanki) के बेटे भरतसिंह (Bharatsinh) ने उनके हिंदी भाषण का गुजराती में लाइव अनुवाद करने की कोशिश की, जिसमें वह बुरी तरह असफल हुए. इसके बाद, जब भरतसिंह की जगह उम्मीदवार अनंत पटेल (Anant Patel) द्वारा ली गई, तब वहाँ मौजूद भीड़ ने खुशी मनाई.

Image Source

यह भी पढ़ें: Gujarat Assembly Elections 2022: आज मुख्य पार्टियों के शीर्ष नेता करेंगे जमकर प्रचार

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com