जेल में मालिश के बाद अब तिहाड़ में लज़ीज़ भोजन करते नज़र आए आप नेता सत्येंद्र जैन

जेल में मालिश के बाद अब तिहाड़ में लज़ीज़ भोजन करते नज़र आए आप नेता सत्येंद्र जैन

आम आदमी पार्टी (AAP) के मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) का हाल ही में तिहाड़ जेल (Tihar Jail) की कोठरी में मालिश कराने का एक वीडियो बहुत वायरल हुआ था. अब उस वीडियो के कुछ दिनों बाद, बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने जेल के अंदर शानदार भोजन का आनंद लेते हुए, सत्येंद्र जैन का एक और वीडियो जारी किया है.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहज़ाद पूनावाला (Shehzad Poonawalla) ने तिहाड़ जेल में बंद आप मंत्री का जेल की कोठरी में लज़ीज़ भोजन का आनंद लेते हुए एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियोको जारी करते हुए पूनावाला ने लिखा, “मीडिया से एक और वीडियो! बलात्कारी से मालिश करने और उसे फ़िज़ियो थेरेपिस्ट कहने के बाद, सत्येंद्र जैन को शानदार भोजन का आनंद लेते देखा जा सकता है. उनके सहायक उसे इस तरह भोजन परोसते हैं, जैसे कि वह छुट्टी पर किसी रिसॉर्ट में हो. केजरीवाल जी (Arvind Kejriwal) ने सुनिश्चित किया, कि हवालाबाज़ को वीवीआईपी मज़ा मिले न कि सज़ा.''

जारी हुए इस वीडियो में जैन को लज़ीज़ भोजन और सलाद व अन्य स्वादिष्ट और पौष्टिक खाना खाते देखा जा सकता है. वीडियो में एक व्यक्ति भी दिख रहा है, जो लगातार उनकी सेवा में है. वह व्यक्ति उनके लिए खाना लाने से लेकर, उनकी कुर्सी के पास कूड़ेदान रखने तक सभी काम कर रहा है. इतना ही नहीं, उनके कमरे में पानी की बोतलों की पेटी भी देखी जा सकती है.

यह वीडियो राउज एवेन्यू कोर्ट (Rouse Avenue Court) द्वारा दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन की याचिका पर तिहाड़ जेल के अधिकारियों से जवाब मांगे जाने के एक दिन बाद सामने आया है. जैन की याचिका में तिहाड़ जेल के अंदर उनकी धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, फल और सलाद खाने की मांग की गई थी. कोर्ट में दायर इस याचिका में कहा गया है, कि उसे "जैन भोजन" और मंदिर में प्रवेश नहीं दिया गया है. आप नेता ने कहा, कि वह बिना मंदिर गए भोजन नहीं करते और वह नियमित रूप से फल और सलाद खाते हैं.

शनिवार को भाजपा ने आप मंत्री सत्येंद्र जैन का तिहाड़ जेल में मसाज करवाते हुए एक पुराना वीडियो जारी किया था, जिसके बाद बड़ा विवाद खड़ा हो गया था. तिहाड़ जेल सूत्रों के मुताबिक, वीडियो काफी पुराना है. जेल प्रशासन ने संबंधित अधिकारियों और जेल कर्मचारियों के खिलाफ पहले ही कार्रवाई कर दी है.

Image Source

यह भी पढ़ें: Gujarat Assembly Elections 2022: गुजरात के चुनावी मैदान में आमने सामने राहुल-मोदी

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com