PM MODI: महामारी में लड़ रहे डॉक्टर और वैज्ञानिकों पर गर्व जताया, मृतकों के परिवारों को सांत्वना दी

PM MODI: महामारी में लड़ रहे डॉक्टर और वैज्ञानिकों पर गर्व जताया, मृतकों के परिवारों को सांत्वना दी
Narendra Modi, India's prime minister, speaks during the virtual Leaders Summit on Climate in a video screenshot on Thursday, April 22, 2021. President Biden pledged to cut U.S. greenhouse gas emissions in half by 2030 as he convenes 40 world leaders in a virtual summit intended to demonstrate renewed American resolve to fight climate change and pressure wary nations to raise their own ambitions. Source: White House/Bloomberg via Getty Images

PM MODI 26 मई को वेसाक डे प्रोग्राम (Vesak Day Programme) का हिस्सा बने। वर्चुअल कांफ्रेंस के जरिए उन्होंने महामारी से जुड़ी कई अहम बातें की। PM Modi ने बौद्ध धर्म के अनुयायियों और संगठनों द्वारा लोगों को दी गयी सहायता की भी तारीफ की।  इस दौरान उन्होंने जलवायु परिवर्तन पर भी बात की।

बुद्ध पूर्णिमा(Buddh Poornima) के अवसर पर वर्चुअल कांफ्रेंस के जरिए PM MODI ने अपनी बात लोगों के सामने रखी। PM MODI ने महामारी से हुई क्षति का जिक्र किया, डॉक्टरों और फ्रंटलाइन वर्कर्स के कार्यों की सराहना की और धन्यवाद दिया। PM MODI, वेसाक डे प्रोग्राम का हिस्सा बनकर महात्मा बुद्ध के महान विचारों को प्रस्तुत कर रहे थे। 

PM MODI ने वेसाक डे प्रोग्राम (Vesak Day Programme) में कहा,"हमने देखा है, पिछले कुछ वर्षों में कई व्यक्ति और संगठन आगे आए और लोगों के दुख को कम करने के लिए हर संभव प्रयास किया है। दुनिया भर से बौद्ध संगठनों, बौद्ध धर्म के अनुयायियों द्वारा लोगो को महामारी में उपकरणों और सामग्रियों का दान दिया गया।"

उन्होंने महामारी से जुड़ी कई अहम बातें की, टीकाकरण को एक कारगर हथियार बताया। इसके साथ ही, उन्होंने उन तमाम लोगों के लिए दुख प्रकट किया और सांत्वना दी, जिन्होंने अपनों को खो दिया है। उन्होंने उन वैज्ञानिकों का जिक्र किया जिन्होंने वैक्सीन बनाने में मदद की, और कहा कि हम सभी को उन पर गर्व है।

ANI ने ट्वीट कर PM MODI के बयान की जानकारी दी। ट्वीट में लिखा,"जबकि हम #COVID19 से लड़ने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं, हमें मानवता के सामने आने वाली अन्य चुनौतियों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। चुनौतियों में से एक जलवायु परिवर्तन है। मौसम का मिजाज बदल रहा है, ग्लेशियर पिघल रहे हैं, नदियां और जंगल खतरे में हैं, हम अपने ग्रह को घायल नहीं रहने दे सकते।"

PM Modi ने Paris Targets का जिक्र करते हुए कहा,"भारत उन कुछ बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है जो Paris Targets को पूरा करने की राह पर हैं। हमारे लिए, सतत जीवन केवल शब्दों के बारे में नहीं है, यह कार्यों के बारे में भी है।"

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com