Narendra Modi: गोवा सरकार के सभी कदम सराहनीय, ‘आत्मनिर्भर भारत’ के प्रति संवेदनशील है राज्य

Narendra Modi: गोवा सरकार के सभी कदम सराहनीय, ‘आत्मनिर्भर भारत’ के प्रति संवेदनशील है राज्य

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने शनिवार, 23 अक्टूबर 2021 को गोवा में सरकारी योजनाओं के कामकाज की सराहना की. उन्होंने कहा, कि राज्य सरकार ने कई कल्याणकारी योजनाओं को शत प्रतिशत लागू किया है. 'आत्मनिर्भर भारत स्वयंपूर्ण गोवा कार्यक्रम' को संबोधित करते हुए, प्रधानमन्त्री Narendra Modi ने कहा, "गोवा ने गरीबों और जरूरतमंदों को मुफ्त राशन उपलब्ध कराने में 100 प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया है. राज्य ने पहले ही वैक्सिनेशन का 100 प्रतिशत लक्ष्य को हासिल कर लिया था. भारत ने खुले में शौच से मुक्त होने का लक्ष्य रखा और गोवा ने वह भी हासिल किया है. भारत ने हर घर को बिजली से जोड़ने का लक्ष्य रखा, गोवा ने इसे भी हासिल किया. हर घर जल मिशन के तहत , गोवा यह उपलब्धि हासिल करने वाला पहला राज्य बना."

गोवा में चल रही सरकारी योजनाओं की तारीफ़ में प्रधानमन्त्री Narendra Modi ने कहा, कि "महिलाओं की सुविधा और सम्मान के लिए, गोवा कई सरकारी योजनाओं को सफलतापूर्वक लागू कर रहा है. राज्य ने महिलाओं ने शौचालय, उज्ज्वला गैस कनेक्शन या जन धन बैंक खातों, जैसी सुविधाओं को उपलब्ध कराने में एक महान काम किया है.

मुख्यमंत्री Pramod Sawant के कामों की प्रशंसा करते हुए, प्रधानमंत्री Narendra Modi ने कहा, "Pramod Sawant जी की टीम, जिस विश्वास से मेरे मित्र स्वर्गीय मनोहर पर्रिकर जी के जिम्मेदारी को आगे बढ़ा रही है, उसी विश्वास से गोवा को ईमानदारी से नई ऊंचाइयां दे रहे हैं. आज गोवा नए आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ रहा है. 'टीम गोवा ' की इस नई टीम भावना का परिणाम आत्मनिर्भर गोवा का संकल्प है."

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने इस बात पर प्रकाश डाला, कि गोवा में विकसित किए जा रहे बुनियादी ढांचे से किसानों, पशुपालकों और मछुआरों की आय बढ़ाने में भी मदद मिलेगी. गोवा के ग्रामीण बुनियादी ढांचे के आधुनिकीकरण के लिए फंड पांच बार बढ़ा दी गई है, जो कि पहले की तुलना में ज्यादा है.

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने शनिवार को लाभार्थियों और हितधारकों के साथ, आत्मनिर्भर भारत स्वयंपूर्ण गोवा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यक्रम में बातचीत की." इस मौके पर मुख्यमंत्री Pramod Sawant भी मौजूद थे. स्वयंपूर्ण गोवा की पहल 1 अक्टूबर, 2020 को शुरू की गई थी. इस कार्यक्रम के तहत, राज्य सरकार के एक अधिकारी को 'स्वयंपूर्णा मित्र' के रूप में नियुक्त किया जाता है. मित्रा एक नामित पंचायत या नगरपालिका का दौरा करता है, लोगों के साथ बातचीत करता है, कई सरकारी विभागों के साथ समन्वय करता है और यह सुनिश्चित करता है कि विभिन्न सरकारी योजनाएं और लाभ पात्र लाभार्थियों को उपलब्ध हों.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com