Narendra Modi in Tripura: उत्तर पूर्वी भारत को HIRA देने का वादा किया पूरा

Narendra Modi in Tripura: उत्तर पूर्वी भारत को HIRA देने का वादा किया पूरा

आज 4 जनवरी 2022 को प्रधानमंत्री Narendra Modi ने उत्तर भारत का दौरा किया है. इस दौरे को लेकर प्रधानमंत्री का मुख्य उद्देश्य, त्रिपुरा में 13 नए परियोजना की आधारशिला रखना था और 13 नई परियोजनाओं का शुभारंभ करना था. सूत्रों के हवाले से ख़बर है, कि उद्घाटन की गई परियोजनाओं की लागत लगभग 1850 करोड़ रूपए है और जिनके लिए आधारशिला रखी गई थी, उनको पूरा करने में 2950 करोड़ रूपए से अधिक की लागत लग सकती है. 

समारोह स्थल पर पहुंचने से पहले प्रधानमंत्री Narendra Modi ने, पुनर्निर्मित गोविंदजी मंदिर गए और पूजा-अर्चना की थी. वहीं प्रधानमंत्री ने इंफाल स्मार्ट सिटी मिशन के लिए, एक एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र का उद्घाटन किया है. इसके साथ ही, इंफाल नदी के पश्चिमी मोर्चे का विकास मार्ग शुरू करने के लिऐ परियोजना का शुभारम्भ किया है. 

वहीं Narendra Modi द्वारा एक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान और 200 बेड वाला, अर्धस्थायी Covid-19 अस्पताल भी शुरू किया गया है. इसके साथ ही, उत्तर भारत को आज उन्होंने पांच राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं, सरकारी आवासीय क्वार्टर, मणिपुर इंस्टीट्यूट ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्स, सेंटर फॉर इन्वेंशन, इनोवेशन, इनक्यूबेशन एंड ट्रेनिंग प्रदान की है. वहीं राज्य की सबसे बड़ी पहल, अत्याधुनिक कैंसर अस्पताल के अलावा कई अन्य परियोजनाओं की भी शुरूआत की गई है. आपको बता दें, कि इस मौके पर भाजपा के बड़े नेताओं सहित त्रिपुरा के मुख्यमंत्री, Biplab Kumar Deb भी मौजूद थे.

इस समारोह में प्रधानमंत्री Narendra Modi ने जनता के नाम संबोधन भी दिया. इस संबोधन में उन्होंने कहा है, कि "मैने उत्तर भारत को HIRA देने की बात कही थी, आज मैंने अपने उस वादे को पूरा किया है. यदि आप रिकॉर्ड उठाकर देखें, तो उत्तर भारत आज इंटरनेट, हवाई कनेक्टिविटी, रेलवे और हाई वे प्रोजेक्ट्स की नई सौगात पाकर तरक्की की राह पर अग्रसर हो चुका है. 21वीं सदी में भारत को आधुनिक बनाने वाले नौजवान मिलें, इसके लिए देश में नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की जा रही है.इसमें स्थानीय भाषा में पढ़ाई पर भी उतना ही जोर दिया गया है. त्रिपुरा के विद्यार्थियों को अब मिशन-100, 'विद्या ज्योति' अभियान से भी मदद मिलने वाली है."

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com