Narendra Modi In Varanasi: मंत्रियों संग बैठक के बाद किए स्वर्वेद महामंदिर के दर्शन⁩

Narendra Modi In Varanasi: मंत्रियों संग बैठक के बाद किए स्वर्वेद महामंदिर के दर्शन⁩

प्रधानमंत्री Narendra Modi ने आज, 14 दिसंबर 2021 को भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों तथा उप मुख्यमंत्रियों को बैठक के माध्यम से संबोधित किया. 4 घंटे से अधिक समय तक चली इस 'सुशासन' बैठक में, प्रधानमंत्री ने भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ विभिन्न कल्याणकारी पहलों और चुनावी रणनीतियों पर चर्चा की. प्रधानमंत्री Narendra Modi ने इस जन सभा में विकास कार्यों, उनकी वर्तमान स्थिति और पाइपलाइन में नई परियोजनाओं का जायजा लिया. बैठक में केंद्र की योजनाओं और उनके क्रियान्वयन और आगामी विधानसभा चुनावों पर भी चर्चा की गई.

 इसके साथ ही, प्रधानमंत्री Narendra Modi ने आज उत्तर प्रदेश के वाराणसी के उमरहां में स्वर्वेद महामंदिर के भी दर्शन किए. यहां उन्होंने सद्गुरु सदाफलदेव को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की. यहां उनके द्वारा विहंगम योग के अनुयाइयों को संबोधन दिया गया. 

 प्रधानमंत्री Narendra Modi द्वारा यह जन संबोधन 98वें विहंगम योग दिवस के मौके पर दिया गया. वह इस वार्षिक उत्सव में हेलीकॉप्टर के माध्यम से पहुंचे थे. उत्तर प्रदेश की राज्यपाल Anandiben Patel और मुख्यमंत्री Yogi Adityanath भी स्वर्वेद मंदिर की 98वीं जयंती समारोह में शामिल रहे. 

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि स्वर्वेद मंदिर में किसी भी प्रकार की मूर्ति मौजूद नहीं है. अभी यह मंदिर निर्माणधीन है, लेकिन इस स्थान का निर्माण कार्य पूरा हो जाने पर इस स्थान पर 20 हज़ार लोग एक साथ योग क्रियाएं कर सकेंगे. इस मंदिर के निर्माण में भारी मात्रा में संगमरमर पत्थर का इस्तेमाल किया जा रहा है. मंदिर के संत Vigyan Dev द्वारा मिली जानकारी के अनुसार, स्वर्वेद मंदिर का निमार्ण मुख्य रूप से संतों-ऋषियों से विरासत में मिली भारतीय संस्कृति और ज्ञान को सहेजने के उद्देश्य से किया जा रहा है. यह महामंदिर स्थापत्य व संरचना की दृष्टि से भी अनूठा होगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि इससे पहले प्रधानमंत्री Narendra Modi ने कल, 13 दिसंबर 2021 को Kashi Vishwanath Corridor का उद्घाटन किया था. वहीं, आज वाराणसी के उमरहां में कार्यक्रम के बाद, प्रधानमंत्री Narendra Modi बाबतपुर एयरपोर्ट जाएंगे और वहां से नई दिल्ली रवाना होंगे.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com