Modi Cabinet 2.0: सबसे शिक्षित केंद्रीय मंत्रियों की सूची, डॉक्टर, इंजिनियर और वकील, सब हैं शामिल

Modi Cabinet 2.0: सबसे शिक्षित केंद्रीय मंत्रियों की सूची, डॉक्टर, इंजिनियर और वकील, सब हैं शामिल

Modi Cabinet 2.0 के मंत्रियों की बात करें तो बहुत सारी विविधता देखने को मिलेगी. Modi Cabinet 2.0 में ऐसे चेहरों को शामिल किया गया है, जो लोगों की सेवा करने के साथ-साथ उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त किए हुए हैं. इन 36 नए चेहरों में आपको वकील से लेकर डॉक्टर, इंजीनियर से लेकर एमबीए डिग्री धारक तक शिक्षा प्राप्त किए हुए मंत्री मिल जाएंगे. चलिए आज उन मंत्रियों के नामों की चर्चा करते हैं, जो Modi Cabinet 2.0 में सबसे अधिक क्वालिफाइड माने जा रहे हैं.

Modi Cabinet 2.0 के सबसे अधिक क्वालिफाइड मंत्रियों की सूची

अश्विनी वैष्णव: इनके जिम्मे रेल मंत्रालय, और इसके अलावा, संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय का कार्यभार भी दिया गया है. इनके पास एमबीए की भी डिग्री है और आईआईटी कानपुर से इन्होंने  M.Tech भी किया हुआ है. 1994 बैच के यह आईएएस ऑफिसर भी रह चुके हैं. राजनीति में उड़ीसा से राज्यसभा के MP हैं.

ज्योतिरादित्य सिंधिया: ये पार्लियामेंट में पांचवीं बार कार्यभार का जिम्मा संभाल रहे हैं. इन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एमबीए की डिग्री ली है, और हॉवर्ड यूनिवर्सिटी से बी ए की डिग्री प्राप्त की है. 

राजीव चंद्रशेखर: इन्होंने कंप्यूटर साइंस से M.Tech और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम का कोर्स किया हुआ है. कर्नाटक से राज्यसभा के एमपी हैं.

सुभाष सरकार: वेस्ट बंगाल के बांकुड़ा से पहली बार लोकसभा के एमपी बने हैं. ये एक गायनेकोलॉजिस्ट हैं, और कलकत्ता यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की डिग्री धारण किए हुए हैं. ये एम्स कल्याणी में बोर्ड मेंबर की कुर्सी भी संभाल चुके हैं.

एल मुरुगन: बीजेपी तमिलनाडु के चीफ, और इन्होंने मद्रास हाई कोर्ट में 15 साल तक वकालत की प्रैक्टिस भी की है. मद्रास यूनिवर्सिटी से एलएलबी की डिग्री रखी है, और कानून की पढ़ाई से पीएचडी भी किया हुआ है.

उपेंद्र यादव: कई सारी पार्लियामेंट्री कमिटीज का नेतृत्व किया है. राजनीति में अपना करियर शुरू करने के पहले इन्होंने सुप्रीम कोर्ट में वकालत की प्रैक्टिस की है. 

मुंजापरा महेंद्रभाई: तीन दशक तक इन्होंने एक कार्डियोलॉजिस्ट के रूप में काम किया है. इसके अलावा यह गुजरात में प्रोफ़ेसर ऑफ मेडिसिन के रूप में भी कार्यरत रहे हैं.

यह भी पढ़ें: Teerath Singh Rawat: अटकलों के बीच आधी रात को दिया मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com