Mobikwik IPO: SEBI से मिली मंज़ूरी, दिवाली होगी बहुत ही धमाकेदार

Mobikwik IPO: SEBI से मिली मंज़ूरी, दिवाली होगी बहुत ही धमाकेदार

ऑनलाइन भुगतान और ऋण दाता फर्म, MobiKwik को आज, 8 अक्टूबर, 2021 को SEBI द्वारा बाज़ार में अपना IPO लॉन्च करने की अनुमति मिल गई है. यह खबर, विभिन्न मीडिया हाउस और सूत्रों के हवाले से दी जा रही है. खबरों के अनुसार, MobiKwik अपने IPO को दिवाली से पहले लाॅन्च कर सकता है. हालांकि, MobiKwik की ओर से IPO के लॉन्च की तारीख से जुड़ा कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है. कंपनी द्वारा IPO जारी हो जाने के बाद, MobiKwik शेयर बाज़ार में लिस्ट होने वाली ऑनलाइन पेमेंट सेक्टर से जुड़ी पहली कंपनी बन जाएगी.

MobiKwik IPO

Bipin Preet Singh और Upasana Taku, कि पति-पत्नी जोड़ी ने सन 2009 में ऑनलाइन पेमेंट कंपनी, MobiKwik की स्थापना की थी. इस वर्ष जुलाई के महीने में MobiKwik ने SEBI में 1,900 करोड़ रुपए की कीमत के IPO हेतु आवेदन किया था. पहले चरण की प्राइमरी सेल्स के ज़रिए, कंपनी 1,500 करोड़ रुपए की कीमत के शेयर बेचेगी. इसके बाद, सेकेंडरी सेल में कंपनी के वर्तमान शेयर धारक, 400 करोड़ की कीमत के शेयर बेच सकेंगे. हिस्सेदारी बेचने वाले शेयरधारकों में Founders, American Express, Bajaj, Cisco और Sequoia जैसी कंपनियां शामिल हैं. 31 मार्च, 2021 के आंकड़ों के अनुसार, MobiKwik की कुल आय 302 करोड़ रुपये थी, तो वहीं कंपनी का कुल घाटा 111 करोड़ रुपये दर्ज किया गया था. 

क्यों खास है MobiKwik IPO?

शेयर बाज़ार में लिस्टिंग के लिए, MobiKwik एक बेहद दिलचस्प कंपनी है. हाल ही में Zomato समेत कई दूसरी कंपनियों के IPO को शेयर बाज़ार में जब़रदस्त सफलता हासिल हुई है. Zomato की सफलता से साबित होता है, कि शेयर बाज़ार में स्टार्टअप कंपनियों के प्रति भरोसा बढ़ रहा है. लेकिन MobiKwik, Zomato की तरह अपने व्यापार के क्षेत्र की सबसे अग्रणी कंपनी नहीं है. आने वाले कुछ दिनों में ऑनलाइन पेमेंट क्षेत्र से जुड़ी एक और कंपनी, Paytm द्वारा भी IPO लॉन्च की योजना बनाई जा रही है. Paytm भारत में ऑनलाइन पेमेंट क्षेत्र की सबसे अग्रणी कंपनियों में से एक मानी जाती है. इसके अलावा, MobiKwik, Zomato या Paytm की तरह यूनिकॉर्न कंपनी भी नहीं है. ऐसे में शेयर बाज़ार में MobiKwik के  IPO के प्रति निवेशकों का रवैया कैसा रहेगा, यह देखना बेहद दिलचस्प होगा. 

ऑनलाइन पेमेंट सेक्टर के अन्य IPO

इधर MobiKwik अपना IPO लॉन्च करने जा रही है, तो उसी दौरान ऑनलाइन पेमेंट सेक्टर से जुड़ी सबसे बड़ी कंपनी, Paytm भी IPO के लिए अपने दस्तावेज जमा करने की तैयारी में है. अपने IPO के जरिए, Paytm की योजना है, कि वह 3 बिलियन डॉलर की राशि जुटा सके. खबरों के अनुसार, Paytm का मार्केट मूल्य, 30 बिलियन डॉलर आंका गया है, जो कि MobiKwik से कई गुना अधिक है. अगर अपने IPO के ज़रिए Paytm 3 बिलियन डॉलर की राशि जुटा लेता है, तो वह भारत के सबसे बड़े IPO में से एक साबित होगा.

IPO में SEBI की भूमिका

SEBI, शेयर बाज़ार की नियामक संस्था है. शेयर बाज़ार में IPO की लॉन्चिंग में SEBI की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है. किसी भी कंपनी को शेयर बाज़ार में अपना IPO लॉन्च करने के लिए अंतिम अनुमति, SEBI से ही लेनी पड़ती है. एक कंपनी द्वारा अपना IPO लॉन्च करने के लिए सबसे पहले, SEBI के पास आवेदन करना होता है. इसके बाद, कंपनी को अपने व्यापार‌,‌ मैनेजमेंट, लक्ष्य और कंपनी से जुड़े जोखिम के संबंध में SEBI को जानकारी उपलब्ध करानी पड़ती है. यह जानकारी, कंपनी ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रोस्पेक्टस के ज़रिए, SEBI को उपलब्ध कराती है. इसके बाद, SEBI कंपनी के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारियों का सत्यापन करती है. अगर SEBI, कंपनी द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारियों को सही पाती है, तो ही कंपनी को IPO लॉन्च करने की अनुमति दी जाती है.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com