IT Rules 2021: नए IT Rules के आने से देश का सोशल मीडिया कितना बदलेगा?

IT Rules 2021: नए IT Rules के आने से देश का सोशल मीडिया कितना बदलेगा?

भारत में सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म को अब नए IT Rules का पालन करना होगा. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा जारी की गई नए नियमों की सूची पर अनुसरण करना भारत सरकार द्वारा अनिवार्य कर दिया गया है. ऐसा न करने की स्थिति में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को दिया गया Intermediatery का विशेष दर्जा समाप्त किया जा सकता है. 

Intermediatery का दर्जा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के लिए विशेष महत्व रखता है. यह दर्जा सोशल मीडिया कंपनियों को अपने प्लेट्फार्म पर प्रकाशित होने वाली कंटेंट से बचने  के लिए सुरक्षा प्रदान करता है.

क्या होंगे बदलाव? 
सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (Ministry of Information and Broadcasting) द्वारा जारी सूची के अनुसार अब सोशल मीडिया कंपनियो को अपने प्लेट्फार्म पर पड़ने वाली कंटेंट के लिए अधिक जवाबदेह होना पड़ेगा. नए नियम आने से सरकार अब सोशल मीडिया की कड़ी निगरानी कर सकेगी. सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियो को आदेश दिया कि वह यूज़र्स की शिकायतों को हैंडल करने के लिए एक Grievance Redressal Officer नियुक्त करें.

इस Grievance Officer का दफ्तर भारत मे ही स्थित होना चाहिए. Grievance Officer के ज़रिए सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि आम यूजर का सोशल मीडिया के ज़रिए उत्पीड़न या गलत फायदा न उठाया जा सके.

Grievance Officer के पास शिकायत दर्ज कराने के बाद 24 घण्टे के अंदर यूजर को पुष्टि कराई जाएगी कि उसकी शिकायत दर्ज की जा चुकी है. के अनुसार यह Grievance Officer की अन्य ज़िम्मेदारियों में यह भी शामिल रहेगा कि, वह यह सुनिश्चित करे कि नए IT Rules का पालन किया जा रहा है या नहीं. इसके इस अफसर की यह भी ज़िम्मेदारी होगी की वह सरकार को कानूनी प्रक्रियाओं का पालन करने के लिए ज़रूरी सूचना मुहैया कराए.

Related Stories

No stories found.