Israel Palestine Conflict: 11 दिनों के बाद लगा संघर्ष विराम ; खूनी खेल में जा चुकी है कई मासूमों की जान।

GAZA CITY, GAZA - MAY 21:  Palestinians celebrate the cease-fire agreement between Israel and Hamas on May 21, 2021 in Gaza City, Gaza. Yesterday, Israel's cabinet and Hamas, the militant group that rules Gaza, agreed on a ceasefire starting in the early hours of this morning. The recent fighting, which has killed over 230 Palestinians, many of them women and children, and 13 Israelis, began on May 10th after rising tensions in East Jerusalem. (Photo by Fatima Shbair/Getty Images)
GAZA CITY, GAZA - MAY 21: Palestinians celebrate the cease-fire agreement between Israel and Hamas on May 21, 2021 in Gaza City, Gaza. Yesterday, Israel's cabinet and Hamas, the militant group that rules Gaza, agreed on a ceasefire starting in the early hours of this morning. The recent fighting, which has killed over 230 Palestinians, many of them women and children, and 13 Israelis, began on May 10th after rising tensions in East Jerusalem. (Photo by Fatima Shbair/Getty Images)

 इजरायल(Israel) और हमास(Hamas) दोनों पक्षों ने संघर्ष विराम की घोषणा कर दी है। इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष(Israel Palestine conflict) के बाद संघर्ष विराम की घोषणा से गाजा(Gaza) पट्टी में लोग जश्न मना रहे हैं। इजरायल आवश्यक सामानों से भरा हुआ ट्रक गाजा पट्टी में भेज रहा है। हालांकि दोनों पक्षों ने कहा है कि संघर्ष विराम तोड़ने पर पलटवार करने में देरी नहीं गई की जाएगी।

इजरायल(Israel) और हमास(Hamas) के बीच पिछले 11 दिनों से जारी इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष(Israel Palestine conflict) थम चुका है। गाजा पट्टी में लोग इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष(Israel Palestine conflict) पर लगे संघर्ष विराम पर खुशी जता रहे हैं। लंबे वक्त से चल रहे इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष(Israel Palestine conflict) के खत्म होने के बाद दोनों पक्षों ने अपनी अपनी जीत का ऐलान किया। शहर के अलग-अलग मस्जिदों में ऐलान के जरिए नागरिकों को सूचित किया गया। इस संघर्ष विराम को 'स्वर्ड ऑफ यरूशलेम(Sword of Jerusalem)'  की भी जीत कही जा रही है। इजरायल और हमास(Hamas) दोनों की सहमति से सीमा पर संघर्ष विराम लग गया है, पर इसके साथ ही, दोनों पक्षों की तरफ से यह भी कहा गया है कि अगर हमले की कोशिश की गई, तो पलटवार में देर नहीं की जाएगी। 

CNN INTERNATIONAL ने वीडियो ट्वीट कर लोगों की खुशी को सोशल मीडिया पर रखा।

Gaza Health Ministry के अनुसार, इजरायल(Israel) के हमलों से 232 फिलस्तीनी लोगो की जान चली गई है, और 1900 से अधिक फिलिस्तीनी लोग जख्मी हो गए हैं। इजरायल(Israel) सरकार का कहना है कि इजरायल(Israel) के भी 12 लोगों की जान, हमास(Hamas) के हमले से गई है, और सैकड़ों लोग घायल हैं। पिछले 11 दिनों में इजरायल(Israel) ने हवाई हमले द्वारा गाजा के कई हिस्सों को खंडहर में तब्दील कर दिया है। वहीं दूसरी ओर गाजा की तरफ से भी लगभग 4000 से अधिक रॉकेट इजरायल(Israel) की तरफ दागे गए हैं। 

कुछ लोगों का मानना है, कि इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष(Israel Palestine conflict) को खत्म करने के लिए जो बाइडन(American President Joe Biden) के दबाव के कारण इजरायल(Israel) ने संघर्ष विराम  घोषित किया है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह इजिप्ट (Egypt)  के मध्यस्थता के प्रयास के कारण ही संभव हो पाया है। 

इजरायल(Israel) के अमेरिका में राजदूत गिलैड अर्दान ने कहा था कि यह संघर्ष इजरायल(Israel) और फिलिस्तीन के बीच नहीं बल्कि इजराइल और आतंकवादी संगठन, हमास(Hamas) के बीच था। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि हमें इलाज चाहिए, मरहम पट्टी नहीं।

 हमास(Hamas) एक उग्रवादी संगठन है, जो फिलिस्तीन के एक हिस्से, गाजा पट्टी पर शासन करता है। सऊदी अरब, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट करके इस संघर्ष के लिए  इजरायल की आलोचना की थी। 

इसके साथ ही इजरायल(Israel) मेडिकल इक्विपमेंट्स, खाने के पैकेट, कोविड-19 से संबंधित सामान को भरकर कई ट्रकों को गाजा पट्टी में भेज रहा है। इजरायल के विदेशी वित्त विभाग ने ट्वीट करके यह जानकारी दी है। इजरायल फिलिस्तीन संघर्ष (Israel Palestine Conflict) पर विराम पूरे विश्व के लिए राहत की खबर है। 

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com