Indian Independence: जानिए 5 रोचक तथ्यों के बारे में

Indian Independence: जानिए 5 रोचक तथ्यों के बारे में

भारतीय स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को मनाया जाता है. इस साल 15 अगस्त, 2021 को भारत अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है. देश पर 1858 से 1947 तक ब्रिटिश क्राउन का शासन था. आपको बता दें, कि इससे पहले अंग्रेजों ने ईस्ट इंडियन कंपनी का गठन किया था. Indian Independence (भारतीय स्वतंत्रता) की लड़ाई पहली बार 1857 में हुई थी जिसे प्रसिद्ध रूप से 1857 का भारतीय विद्रोह कहा जाता है. 

कई स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत को आज़ाद करवाने के लिए अपने प्राणों कि आहुति दी थी. अंग्रेजों से बहादुरी से लड़ाई लड़ते हुए भारत को 15 अगस्त 1947 में आज़ादी मिली. 

आइए जानते है, 5 Indian Independence के रोचक तथ्यों के बारे में

पहला तथ्य – भारतीय राष्ट्रगान सन्न 1950 में अपनाया गया था

स्वतंत्रता के समय, भारत के पास आधिकारिक राष्ट्रगान नहीं था. 1911 में Rabindranath Tagore द्वारा रचित गीत भरतो भाग्य बिधाता का नाम बदलकर 'जन गण मन' कर दिया गया. इसके बाद इस गीत को 24 जनवरी 1950 को भारत की संविधान सभा द्वारा राष्ट्रगान के रूप में अपनाया गया. 

दूसरा  तथ्य – 1906 में पहली बार भारतीय ध्वज फहराया गया 

लाल, पीले और हरे रंग की 3 क्षैतिज पट्टियों वाला भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पहली बार 7 अगस्त 1906 को पारसी बागान स्क्वायर, कोलकाता में फहराया गया था. वर्तमान राष्ट्रीय ध्वज का पहला संस्करण 1921 में Pingali Venkayya द्वारा डिजाइन किया गया था. अशोक चक्र के साथ केसरिया, सफेद और हरी धारियों वाला वर्तमान भारतीय ध्वज आधिकारिक तौर पर 22 जुलाई 1947 को अपनाया गया. इसके बाद 15 अगस्त 1947 भारतीय ध्वज  को फहराया गया था. 

तीसरा तथ्य – Lord Mountbatten ने 15 अगस्त को भारतीय स्वतंत्रता दिवस के रूप में चुना

भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम को मंजूरी 18 जुलाई 1947 को दी गई थी. लेकिन Lord Mountbatten ने 15 अगस्त को भारतीय स्वतंत्रता की तारीख के रूप में चुना था. उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि 15 अगस्त 1947 को जापान ने द्वितीय विश्व युद्ध के बाद मित्र देशों की सेना के सामने आत्मसमर्पण किया था. 

चौथा तथ्य- हमारा राष्ट्रीय गीत "वंदे मातरम" एक उपन्यास का हिस्सा है

Bankim Chandra Chatterjee द्वारा रचित राष्ट्रीय गीत "वंदे मातरम" वास्तव में 1880 के दशक में लिखे गए उनके उपन्यास आनंदमठ का हिस्सा था. यह गीत पहली बार 1896 में Rabindranath Tagore द्वारा गाया गया था. वंदे मातरम को 24 जनवरी 1950 को राष्ट्रीय गीत के रूप में अपनाया गया था.

पाचवां तथ्य – भारतीय ध्वज भारत में केवल एक ही स्थान पर निर्मित होता है

भारतीय ध्वज का निर्माण देश में केवल एक ही स्थान पर होता है. यह स्थान कर्नाटक खादी ग्रामोद्योग संयुक्त संघ (KKGSS) है, जो कर्नाटक के धारवाड़ में स्थित है. इस ग्रामोद्योग के पास भारतीय ध्वज के निर्माण और आपूर्ति का अधिकार है. भारतीय मानक ब्यूरो के अनुसार, राष्ट्रीय ध्वज का निर्माण केवल हाथ से बुने हुए खादी कपड़े से किया जाता है. 

यह है Indian Independence से जुड़े 5 रोचक तथ्य. आशा है आपको यह पढ़कर अच्छा लगा होगा. अगर आप भी कुछ ऐसे रोचक तथ्यों के बारे में जानते हैं, तो नीचे कमेन्ट बॉक्स में लिखें. 

यह भी पढ़ें: Top 5 Viral Videos: ऐसे वीडियोज़ जो हो रहे हैं इंटरनेट पर तेज़ी से वायरल

Related Stories

No stories found.