Elder Line Helpline: बुज़ुर्गों की सहायता के लिए सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

Elder Line Helpline: बुज़ुर्गों की सहायता के लिए सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

भारत सरकार ने पेंशन, कानूनी मुद्दों और यहां तक की दुर्व्यवहार के मामलों से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए, देश की बुज़ुर्ग आबादी के लिए एक अखिल भारतीय Elder Line हेल्पलाइन शुरू की है. ये Elder Line टोल-फ्री हेल्पलाइन 14567 विभिन्न मुद्दों पर मुफ्त जानकारी और मार्गदर्शन प्रदान करेगी. ये हेल्पलाइन बुज़ुर्गों को भावनात्मक समर्थन देगी और यहां तक की बेघर बुज़ुर्गों को बचाने के लिए भी अहम कदम उठाएगी.

Tata Trust द्वारा अपने सहयोगी विजयवाहिनी चैरिटेबल फाउंडेशन के सहयोग से एक पहल के रूप में Elder Line हेल्पलाइन को पहली बार तेलंगाना सरकार के सहयोग से हैदराबाद में स्थापित किया गया था. इस Elder Line हेल्पलाइन को अब तक 17 राज्यों में खोला गया है. इसमें Tata Trust और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज फाउंडेशन तकनीकी साझेदार हैं, जो बुज़ुर्गों के लिए Elder Line हेल्पलाइन के संचालन का समर्थन कर रहे हैं. 

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा आज एक घोषणा में कहा गया है कि, "Elder Line हेल्पलाइन का उद्देश्य सभी वरिष्ठ नागरिकों और उनके शुभचिंतकों को एक मंच प्रदान करना है. जिससे वे संघर्ष किए बिना अपनी चिंताओं को साझा कर सकें और मार्गदर्शन प्राप्त कर सकें. भारत में साल 2050 तक लगभग 20% बुज़ुर्ग आबादी यानी 30 करोड़ से अधिक वरिष्ठ नागरिक होने की उम्मीद है. यह आयु वर्ग विभिन्न मानसिक, भावनात्मक, वित्तीय, कानूनी और शारीरिक चुनौतियों का सामना करता है, जिसे महामारी ने और बढ़ा दिया है."

मंत्रालय ने कहा कि यह समझना अधिक महत्वपूर्ण है कि, यह आयु वर्ग देश के समग्र आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए ज्ञान और अनुपयोगी संसाधनों की एक टोकरी है. केंद्र सरकार ने बुज़ुर्ग आबादी को समर्थन देने की बढ़ती ज़रूरत को ध्यान में रखते हुए Elder Line हेल्पलाइन की शुरुआत की है.

पिछले चार महीनों में 2 लाख से अधिक कॉल प्राप्त हुए हैं और 30,000 से अधिक वरिष्ठों को पहले ही मदद दी जा चुकी है. कुल कॉलों में से लगभग 40% कॉलें टीकाकरण में मार्गदर्शन और उससे संबंधित प्रश्नों से संबंधित थी और लगभग 23% कॉलें पेंशन से संबंधित थी.

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com