GST Hike: अब जूते पहनना पड़ेगा महंगा, 1 जनवरी से कीमतों में होगा बदलाव

GST Hike: अब जूते पहनना पड़ेगा महंगा, 1 जनवरी से कीमतों में होगा बदलाव

Central Board of Direct Taxes (CBDT) अगले वर्ष की शुरुआत से, कपड़ों और जूतों पर लगने वाले GST को बढ़ाने वाला है. सूत्रों के हवाले से ख़बर है, कि वर्ष 2022 से जूतों और कपड़ो पर 12% तक GST कर लगेगा. वहीं GST बढ़ने के कारण, इन चीज़ों की कीमतों में भी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी. अब तक इन चीज़ों को 5% वाली GST श्रेणी में रखा गया था.

इसके अलावा, गौर करने वाली बात यह है, कि CBDT द्वारा कुछ सिंथेटिक फाइबर और सूत की GST को कम कर दिया गया है. इन चीज़ों को 18% से घटाकर, 12% की GST श्रेणी में शामिल कर दिया गया है. इस कदमों को, उल्टे शुल्क संरचना को सुधारने के लिए उठाया गया है.

इन सब के बीच, कपड़ा उद्योग ने सरकार के इस कदम का विरोध किया है. कपड़ा उद्योगपतियों का कहना है, कि उद्योग पहले से ही मुद्रास्फीति की वजह से भारी दबाव का सामना कर रहा है. आपको बता दें, कि कर परिषद ने सितंबर में एक बैठक के दौरान, कपड़े और जूते में उल्टे शुल्क ढांचे को ठीक करने की घोषणा की थी. उस समय परिषद ने कहा था, कि 1 जनवरी, 2022 से नया GST लागू किया जाएगा.

Clothing Manufacturers Association of India (CMAI) ने कहा है, कि वह 1 जनवरी से परिधान पर उच्च GST से बहुत निराश हैं. कर वृद्धि ऐसे समय में हुई है, जब उद्योग कच्चे माल, सूत, पैकिंग सामग्री और माल की कीमतों में वृद्धि के साथ मुद्रास्फीति के दबाव का सामना कर रहा है. उद्योग निकाय ने कहा, कि बाज़ार ने GST के बिना भी 12-15% मूल्य वृद्धि की उम्मीद की थी.

CMAI के अध्यक्ष राजेश मसंद ने कहा, कि "CMAI पूरे भारत के संघों और व्यापार निकायों के साथ, इस बदलाव को लागू न करने के लिए, सरकार और GST परिषद पर काफी ज़ोर डाल रहा है. यह वास्तव में बेहद निराशाजनक है, कि परिषद ने उनकी याचिका पर ध्यान नहीं दिया."

Related Stories

No stories found.
हिंदुस्तान रीड्स
www.hindustanreads.com